Wed. Jul 17th, 2019

नया भारत नया बजट नयी उम्मीद सवरेगी गरीबो की किस्मत

भारत की पहली महिला वित्त मंत्री के रूप में शुरुआत करते हुए निर्मला सीतारमण ने अमीरो से लेकर गरीबो को बाटने की निति का पालन इस बार की बजट में किया है भारत के सुपर अमीर लोगो को ४० फीसदी से ज्यादा टैक्स देना पड़ेगा वही पहली बार मकान खरीदने वालो को 45 लाख तक का मकान खरीदने पर 3 :50 लाख रूपये तक की छूट मिल जाएगी वित्त मंत्री का पूरा ध्यान गांव ,गरीब ,किसान ,उधोग ,सड़क ,रेल ,शिक्षा पर है ज्यादा ध्यान गरीबो को रोजगार और शिक्षा को विश्व स्तरीय बनाने पर है |
बजट में देश के तीन करोड़ खुदरा कारोबारियों और दुकानदारों को पेंशन सुविधा के तहत लाने की भी घोषणा की गयी है। सीतारमण ने कि कहा कि बीते वित्त वर्ष में देश में 64.37 अरब डॉलर का एफडीआई आया, जो इससे पिछले वित्त वर्ष यानी 2017-18 से छह प्रतिशत अधिक हैवित्त मंत्री ने कहा, ‘‘मैं इस लाभ को और बेहतर करने का प्रस्ताव करती हूं जिससे भारत को विदेशी निवेश के लिए और अधिक आकर्षक गंतव्य बनाया जा सके। उन्होंने कहा कि सरकार विमानन, मीडिया, एवीजीसी (एनिमेशन, विजुअल इफेक्ट्स, गेमिंग और कॉमिक्स) तथा बीमा क्षेत्रों को एफडीआई के लिए और खोलने को अंशधारकों के साथ विचार विमर्श करेगी।’’ 
वित्त मंत्री ने कहा कि बीमा क्षेत्र की मध्यस्थ इकाइयों के लिए 100 प्रतिशत एफडीआई की मंजूरी दी जाएगी। साथ ही एकल ब्रांड खुदरा क्षेत्र में स्थानीय खरीद के नियमों में ढील दी जाएगी। अभी एफडीआई नीति के तहत बीमा क्षेत्र में 49 प्रतिशत एफडीआई की अनुमति है। इसमें बीमा ब्रोकिंग, बीमा कंपनियां, तीसरा पक्ष प्रशासक (टीपीए), सर्वेयर और नुकसान आकलनकर्ता शामिल हैं।
प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी द्वारा स्वच्छता अभियान पर दिये जाने वाले जोर की प्रतिध्वनि वित्त मंत्री के बजट भाषण में भी सुनाई दी। उन्होंने कहा, ‘‘यह सूचना देते हुए प्रसन्न एवं संतुष्ट हूं कि भारत को दो अक्तूबर 2019 को खुले में शौच करने से मुक्त घोषित किया जाएगा।’’ 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *