अब स्कूलों में महिला कर्मचारियों की संख्या बढ़ाने की बनेगी नीति

नई दिल्ली, 14 सितम्बर 2017 (बचपन एक्सप्रेस): स्कूलों में छात्रों की सुरक्षा बढ़ाने के लिए केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान ने बुधवार को कहा कि केंद्र सरकार महिला कर्मचारियों की संख्या बढ़ाने की एक नीति पर काम कर रही है।

पासवान ने बुधवार को कक्षा दो के छात्र प्रद्युम्न के माता-पिता से मिलने के बाद मानव संसाधन विकास मंत्री प्रकाश जावड़ेकर से मुलाकात की। प्रद्युम्न की गुरुग्राम के भोंडसी स्थित रेयान इंटरनेशनल स्कूल के शौचालय में 8 सितंबर को गला रेतकर हत्या कर दी गई थी।

पासवान ने संवाददाताओं से कहा, “जावड़ेकर ने मुझसे कहा कि सरकार स्कूलों में महिला कर्मचारियों की संख्या बढ़ाने की एक राष्ट्रीय नीति पर काम कर रही है, इसमें सरकारी व निजी दोनों स्कूल शामिल हैं।”

उन्होंने कहा, “योजना प्रारंभिक चरण में है और चर्चा जारी है कि 100 फीसदी महिला कर्मचारी रखी जाए या बहुमत में। इस नीति में यह भी देखेंगे कि किन जगहों पर महिला कर्मचारी की तैनाती की जानी चाहिए।”

स्कूलों में बाल यौन उत्पीड़न की घटनाओं के बाद शैक्षिक संस्थानों में छात्रों की सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए महिला एवं बाल विकास मंत्रालय, मानव संसाधन मंत्रालय के साथ एक प्रोटोकाल विकसित करने पर काम कर रहा है।

पासवान ने कहा कि हरियाणा सरकार बच्चे की हत्या मामले की केंद्रीय जांच ब्यूरो को सौंपने पर गंभीरता से विचार कर रही है।