प्रधानमंत्री ने पशुधन आरोग्य मेले का उद्घाटन किया

लखनऊ/वाराणसी, 23 सितम्बर 2017 (बचपन एक्सप्रेस): अपने संसदीय क्षेत्र वाराणसी के दो दिवसीय दौरे पर पहुंचे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार को पशुधन आरोग्य मेले का उद्घाटन किया। इस मौके पर प्रधानमंत्री ने पीएम आवास योजना के लाभार्थियों को प्रमाण पत्र वितरित किया।

इस दौरान उप्र के राज्यपाल राम नाइक एवं राज्य के मुख्मयंत्री योगी आदित्यनाथ के अलावा प्रदेश के नगर विकास तथा संसदीय कार्य मंत्री सुरेश कुमार खन्ना भी मंच पर मौजूद थे।

मेले के उद्घाटन के बाद मोदी ने जनसभा को संबोधित किया। उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार का प्रयास है कि 2022 तक सबके पास अपना घर हो। उन्होंने कहा, “हमने यह बीड़ा उठाया है कि सभी को घर मिले। हम गरीबों का यह सपना पूरा करके रहेंगे। घर बनने से काफी गरीब मजदूरों को रोजगार मिलेगा। करोड़ों घर बनेंगे तो लोगों को रोजगार भी मिलेगा।”

पिछली सरकारों पर उपेक्षा का आरोप लगाते हुए मोदी ने कहा कि पहले की सरकारों को चिट्ठियां लिखी जाती थी लेकिन यहां से कुछ नहीं होता था। काफी दबाव डालने पर पिछली सरकार ने 10 हजार लोगों की सूची भेजी थी। लेकिन उत्तर प्रदेश में भाजपा की सरकार बनने के बाद मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने लाखों लोगों की सूची भेज दी है।

प्रधानमंत्री ने कहा कि गांव, गरीब और किसान की जिंदगी बदलेगी तभी यह संभव होगा कि हम अपना देश जैसा बनाना चाहते हैं, वैसा बने। हम चाहते हैं कि गरीबों की जिंदगी में बदलाव आए। इसलिए हमने ऐसी योजनाओं पर बल दिया है जिससे गांव, गरीब और किसान को फायदा हो।

मोदी ने कहा कि कूड़ा कचरे से बिजली उत्पादन का काम किया जाएगा और इससे 40 हजार घरों में बिजली पहुंचाई जाएगी। काशी में भी लोगों के घरों में एलईडी बल्ब लगे हुए हैं, जिससे बिजली के बिल में साल भर में सवा सौ करोड़ रुपये की बचत होगी। इसमें किसी के 500, किसी के 250 और किसी के 1,000 रुपये बचेंगे। इससे काशी के लोगों को काफी फायदा होगा।

प्रधानमंत्री ने कहा कि कालाधन, बेईमानी और भ्रष्टाचार के खिलाफ लड़ाई शुरू की गई है। आम आदमी को इसलिए मुसीबत झेलनी पड़ती है क्योंकि बेईमानी करके जनता का धन लूटा जाता है। इसलिए यह अभियान चलाया गया है, जिससे जनता की पाई-पाई जनता की भलाई के लिए लगे।

इससे पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने संसदीय क्षेत्र वाराणसी में दौरे के दूसरे दिन आज पशु आरोग्य मेले का उद्घाटन किया। इसके साथ ही शहंशाहपुर गांव में कुछ दलित परिवारों के साथ भेंट की।

शहंशाहपुर में पशु आरोग्य मेले के शुभारंभ के बाद प्रधानमंत्री ने वहां ऐसी गायों को देखा जो पॉलिथीन खाकर गंभीर रूप से बीमार हो गई थीं। इसके बाद इन सभी का ऑपरेशन करना पड़ा। यहां गंगातीरी नस्ल की 1,000 गायों को पशु आरोग्य मेले में लाया गया है।

–आईएएनएस