चूरू चौपाटी चूरू शहर सौंदर्यीकरण के क्षेत्र में एक नींव का पत्थर साबित होगी -ग्रामीण विकास एवं पंचायती राज मंत्री

 ग्रामीण विकास एवं पंचायती राज मंत्री श्री राजेन्द्र राठौड़ ने कहा है कि चूरू चौपाटी चूरू शहर सौंदर्यीकरण के क्षेत्र में एक नींव का पत्थर साबित होगी।
श्री राठौड़ गुरुवार को चूरू जिला मुख्यालय स्थित जोहरी सागर स्थल पर 5 करोड़ रुपये की लागत से निर्मित होने वाली ‘‘चूरू चौपाटी’’ के शिलान्यास समारोह में बोल रहे थे। उन्होंने कहा कि चूरू शहर के सौंदर्यीकरण के लिए धन की कोई कमी नहीं आयेगी, आवश्यकता है शहरवासी चूरू के समुचित विकास में अपना सक्रिय योगदान दर्ज कराएं। उन्होंने कहा कि राजस्थान में जयपुर स्थित सेन्ट्रल पार्क के बाद चूरू शहर में नेचर पार्क का निर्माण किया गया है जो शहरवासियों के लिए अनूठी सौगात है। उन्होंने कहा कि शहर के गंदे पानी की निकासी के लिए जोहरी सागर पर पुख्ता ड्रेनेज व्यवस्था सुनिश्चित की जा रही है।
पंचायती राज मंत्री ने कहा कि चूरू शहर में 10 करोड़ रुपये की लागत से गुणवत्तापरक सड़कों का निर्माण करवाया जायेगा। उन्होंने कहा कि चूरू शहर की गंगा-जमुना संस्कृति को कायम रखने के लिए आमजन अपनी भूमिका दर्ज करावें। उन्होंने चूरू चौपाटी निर्माण की कार्यकारी एजेन्सी के श्री बाबूलाल को निर्देश दिये कि वे चूरू चौपाटी का खास अंदाज में निर्माण कर शहरवासियों को पर्यटन के क्षेत्र में अनूठी मिसाल भेंट करें।
सभापति श्री विजय कुमार शर्मा ने वर्तमान राज्य सरकार के गत साढ़े चार वर्षों में चूरू शहर में हुए विकास कार्यों की जानकारी देते हुए कहा कि सिवरेज, ड्रेनेज, अमृत योजना शहरवासियों को महत्ती आवश्यक सुविधाएं प्रदान करेगी। नगर परिषद आयुक्त श्री भंवरलाल सोनी ने चूरू चौपाटी प्रोजेक्ट की जानकारी देते हुए कहा कि आगामी दो माह में चूरू चौपाटी का गेट-अप नज़र आने लगेगा। उन्होंने बताया कि चूरू चौपाटी स्थल पर गार्डन, 2 एन्ट्री गेट, म्यूजिकल फाउन्टेन, राजस्थानी संस्कृति को परिलक्षित करती मूर्तियां स्थापित की जायेगी। उन्होंने कहा कि चूरू चौपाटी बीकानेर संभाग का श्रेष्ठ रमणिक पर्यटक स्थल का रूप लेगी।
इस अवसर पर जिला प्रमुख श्री हरलाल सहारण सहित जनप्रतिनिधि एवं गणमान्य नागरिक उपस्थित थे।
समारोह से पूर्व ग्रामीण विकास मंत्री ने जोहरी सागर स्थित तोलियासर भैरूंजी मंदिर एवं मालासी मंदिर के दर्शन किये।