अमेरिका ने शिनजियांग में जारी मानवाधिकार उल्लंघनों और उत्पीड़नों की प्रतिक्रिया में प्रतिबंध और वीज़ा पाबंदी लगाए

अमेरिका चीनी कम्युनिस्ट पार्टी (सीसीपी) द्वारा शिनजियांग में जबरन श्रम, मनमानी सामूहिक नज़रबंदी तथा जबरन जनसंख्या नियंत्रण के ज़रिए उइगरों, कज़ाख मूल के लोगों और अन्य अल्पसंख्यक समुदायों के सदस्यों के मानवाधिकारों के हनन, तथा उनकी संस्कृति एवं मुस्लिम आस्था को ख़त्म करने के प्रयासों का मूकदर्शक नहीं बना रहेगा।

मैं विदेश विभाग, विदेशी गतिविधियां एवं संबंधित कार्यक्रम विनियोग अधिनियम 2020 की धारा 7031(सी) के तहत, मानवाधिकारों के गंभीर उल्लंघन के लिए सीसीपी के इन तीन वरिष्ठ पदाधिकारियों को प्रतिबंधों के लिए नामित कर रहा हूं: शिनजियांग उइगर स्वायत्त क्षेत्र (एक्सयूएआर) के पार्टी सचिव चेन क़्वांगुओ; शिनजियांग राजनीतिक एवं विधि समिति (एक्सपीएलसी) के पार्टी सचिव झू हेलुन; और शिनजियांग सार्वजनिक सुरक्षा ब्यूरो (एक्सपीएसबी) के वर्तमान पार्टी सचिव वांग मिंगशन। इसके परिणामस्वरूप ये तीनों और इनके निकटतम पारिवारिक सदस्य अमेरिका में प्रवेश नहीं कर पाएंगे।

इसके अतिरिक्त मैं शिनजियांग में उइगरों, कज़ाख मूल के लोगों और अन्य अल्पसंख्यक समुदायों के सदस्यों को अनुचित ढंग से नज़रबंद रखने या उनके उत्पीड़न के लिए ज़िम्मेवार या उसमें सहभागी सीसीपी पदाधिकारियों पर आव्रजन एवं राष्ट्रीयता अधिनियिम की धारा 212(ए)(3)(सी) के तहत अक्टूबर 2019 में घोषित नीति के अनुरूप अतिरिक्त वीज़ा पाबंदियां भी लगा रहा हूं। ये प्रतिबंध उनके परिवार के सदस्यों पर भी लागू हो सकते हैं।

ये प्रतिबंध और वीज़ा पाबंदी आज गंभीर मानवाधिकार उल्लंघनों में भूमिका के लिए एक्सपीएसबी तथा चीन के चार वर्तमान या भूतपूर्व अधिकारियों – चेन क़्वांगुओ; वांग मिंगशन; झू हेलुन; और हुओ लियुजुन – को प्रतिबंधों के लिए नामित करने की अमेरिकी वित्त विभाग की घोषणा के अतिरिक्त है। ये प्रतिबंध ‘गंभीर मानवाधिकार हनन या भ्रष्टाचार में शामिल लोगों की संपत्ति पर रोक’ के लिए जारी कार्यकारी आदेश 13818 के अनुरूप है जोकि ग्लोबल मेगनित्स्की मानवाधिकार जवाबदेही एक्ट को कार्यान्वित करता है और उसे आगे बढ़ाता है। शिनजियांग में दमन के सीसीपी के अभियान को तेज़ करने से पूर्व चेन के अधीन तिब्बती इलाक़ों में व्यापक उत्पीड़न हो चुका है, जिनमें उन्हीं कई भयावह प्रथाओं और नीतियों का उपयोग हुआ है जोकि सीसीपी इस समय शिनजियांग में इस्तेमाल कर रही है।

अमेरिका शिनजियांग में भयावह और व्यवस्थित उत्पीड़नों के ख़िलाफ़ आज कार्रवाई कर रहा है, और मानवाधिकारों एवं मौलिक स्वतंत्रताओं पर सीसीपी के हमलों के बारे में हमारी चिंताओं से सहमत सभी राष्ट्रों का हमारे साथ मिलकर इस आचरण की निंदा करने का आह्वान करता है।

278 Views

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may have missed

Subscribe To our News Paper