Top

फर्जी रेटिंग घोटाले की चपेट में आए कई छोटे-बड़े न्यूज चैनल, टेलीविजन रेटिंग पर 3 महीने की रोक....

फर्जी रेटिंग घोटाले की चपेट में आए कई छोटे-बड़े न्यूज चैनल, टेलीविजन रेटिंग पर 3 महीने की रोक....


ब्रॉडकास्ट ऑडियंस रिसर्च काउंसिल ( BARC ) ने न्यूज चैनलों की फर्जी रेटिंग विवाद मामले में चौंकाने वाला फैसला सुनाया है। ताजा फैसले में BARC ने अगामी 3 महीनों के लिए टीवी चैनलों की साप्ताहिक रेटिंग रोक दी है। बता दें कि पिछले कुछ दिनों में फर्जी रेटिंग और टीआरपी को लेकर कथित रूप से बड़ा घोटाला सामने आया है। इस घोटाले की चपेट में कई छोटे-बड़े न्यूज चैनल आ गए हैं। न्यूज ब्रॉडकास्टर्स एसोसिएशन ने BARC के फैसले का स्वागत किया है। न्यूज ब्रॉडकास्टर्स की संस्था NBA का मानना है कि ये निलंबन सही दिशा में उठाया गया एक महत्वपूर्ण कदम है।

जानकारी के लिए बता दें कि मुंबई पुलिस ने पहले दावा किया था कि रिपब्लिक टीवी (Republic TV) और दो मराठी चैनलों ने टीआरपी में हेरफेर की है। पुलिस ने बताया कि कथित टीआरपी स्कैम के सिलसिले में अब तक चार लोगों को गिरफ्तार किया गया है। इनमें दो मराठी चैनलों के मालिक भी शामिल हैं। ये कथित फर्जी टीआरपी घोटाला तब सामने आया जब रेटिंग्स एजेंसी बीएआरसी ने 'हंसा रिसर्च ग्रुप' के जरिए शिकायत दर्ज कराई और आरोप लगाया कि कुछ टीवी चैनल टीआरपी की संख्या में हेरफेर कर रहे हैं।

अराधना मौर्या

Next Story
Share it