पेट्रोल और डीजल भरवाते समय मीटर मे पेट्रोल के रेट के साथ डेन्सिटी जरूर चेक करे

  • whatsapp
  • Telegram
  • koo
पेट्रोल और डीजल भरवाते समय मीटर मे पेट्रोल के रेट के साथ डेन्सिटी जरूर चेक करे

ईंधन का घनत्व: यह पेट्रोल पंप पर पेट्रोल या डीजल की गुणवत्ता का आकलन करने का एक सामान्य और आसान तरीका है। प्रत्येक पेट्रोल पंप पर यह नंबर मशीन पर प्रदर्शित होना आवश्यक है, हालांकि बहुत से लोग इसे जांचने की जहमत नहीं उठाते हैं। पेट्रोल के लिए, यह संख्या भारतीय मानकों के अनुसार 720 - 775 किलोग्राम / एम 3 और डीजल के लिए 820 - 860 किलोग्राम / एम 3 के बीच होनी चाहिए। उन पेट्रोल पंपों पर जाने से बचें जहां इस नंबर का उल्लेख नहीं है या इसके अलावा कुछ और है।



रमाबाई अंबेडकर मैदान के पीछे वाले पेट्रोल पम्प पर डेन्सिटी 700 दिखा रहा है जो मानक के अनुरूप नहीं है | वास्तव मे सरकारी अधिकारी या तो सोते रहते है या फिर उनकी मिली भगत से ये धंधा फल फूल रहा है | इसमे नुकसान जनता का है |

अगर आप किसी पेट्रोल पम्प पर जाते है तो डेन्सिटी के बारे मे जरूर पूछे और उनके मीटर की जांच करे | अगर मानकों के अनुरूप नहीं है तो उसकी शिकायत करे |

जंप ट्रिक: यह थोड़ा विशिष्ट है और इससे बचने के लिए पेट्रोल पंपों पर आपको चौकस रहने की आवश्यकता है। पेट्रोल पंप मालिकों ने मशीन को इस तरह कैलिब्रेट किया है कि जब फिलिंग शुरू होती है, तो रीडिंग सीधे 0 से 20 या उससे ऊपर कूद जाती है। यह मशीन का उपयोग करके ईंधन चोरी करने का एक सामान्य तरीका है। नियमित परिस्थितियों में, यह उछाल 5 से अधिक नहीं होना चाहिए। इसका मतलब है कि 0 के बाद आपको मशीन को सामान्य मानने के लिए 5 रुपये से कम की राशि जरूर देखनी होगी।


Next Story
Share it