जोमैटो ने प्रमुख शहरों में बढ़ाई प्लेटफॉर्म फीस, अब प्रति ऑर्डर देने होंगे 4 रुपए

  • whatsapp
  • Telegram
  • koo
जोमैटो ने प्रमुख शहरों में बढ़ाई प्लेटफॉर्म फीस, अब प्रति ऑर्डर देने होंगे 4 रुपए

नए साल की पूर्व संध्या पर रिकॉर्ड फूड ऑर्डर से उत्साहित फूड डिलीवरी प्लेटफॉर्म जोमैटो ने प्रमुख बाजारों में अपने अनिवार्य प्लेटफॉर्म शुल्क को तीन रुपये से बढ़ाकर चार रुपये प्रति ऑर्डर कर दिया है। नई दरें 1 जनवरी से प्रभावी हो गईं। नए साल की पूर्व संध्या पर जोमैटो ने कुछ बाजारों में अपने प्लेटफॉर्म शुल्क को अस्थायी रूप से नौ रुपये प्रति ऑर्डर तक बढ़ा दिया था। कंपनी के शेयर मंगलवार को तेजी के साथ खुले और सुबह 126 रुपये के आसपास थे।

पिछले साल अगस्त में जोमैटो ने अपने मार्जिन में सुधार करने और लाभदायक बनने के लिए दो रुपये का प्लेटफॉर्म शुल्क लगाया था जिसे बाद में बढ़ाकर तीन रुपये कर दिया गया था। अब 1 जनवरी से इसे फिर से बढ़ाकर चार रुपये कर दिया। नया प्लेटफॉर्म शुल्क ज़ोमैटो गोल्ड सहित सभी ग्राहकों पर लगाया गया है। जोमैटो और उसके क्विक कॉमर्स प्लेटफॉर्म ब्लिंकिट में पिछले सालों की तुलना में नए साल की पूर्व संध्या पर अब तक के सबसे ज्यादा ऑर्डर और बुकिंग देखी गईं।

जोमैटो के संस्थापक और सीईओ दीपिंदर गोयल ने एक्स पर पोस्ट किया, हमने नए साल की पूर्व संध्या पर लगभग उतने ही ऑर्डर वितरित किए हैं जितने 15, 16, 17, 18, 19, 20 को मिलाकर किए थे। भविष्य को लेकर उत्साहित हूं!

ब्लिंकिट के सीईओ अलबिंदर ढींडसा ने कहा कि उन्होंने नए साल की पूर्व संध्या पर ही ऑर्डर की कुल संख्या को पार कर लिया।

ढींडसा ने कहा, हम पहले ही एक दिन में सबसे ज्यादा ऑर्डर, ओपीएम (ऑर्डर पर मिनट), एक दिन में बेचे गए सॉफ्ट ड्रिंक्स और टॉनिक वाटर, एक दिन में बेचे गए चिप्स, एक दिन में राइडर्स को दिए गए टिप्स तक पहुंच चुके हैं। इस बीच, जोमैटो को वस्तु एवं सेवा कर (जीएसटी) के 4.2 करोड़ रुपये के कथित कम भुगतान पर दिल्ली और कर्नाटक के कर अधिकारियों से नोटिस मिला। जोमैटो ने कहा कि वह नोटिस के खिलाफ अपील करेगा।


facebook sharing button Sharetwitter sharing button Tweetemail sharing button Emailmessenger sharing button

Next Story
Share it