(नईदिल्ली)3,689 करोड़ की ब्लॉक डील के बाद 4 फीसदी तक गिरे इंटरग्लोब एविएशन के शेयर

  • whatsapp
  • Telegram
  • koo
(नईदिल्ली)3,689 करोड़ की ब्लॉक डील के बाद 4 फीसदी तक गिरे इंटरग्लोब एविएशन के शेयर

राहुल भाटिया की प्रमोटर एंटिटी इंटरग्लोब एविएशन के शेयरों में आज मार्केट ओपन होने के बाद गिरावट देखने को मिली। इंट्रा ड्रे ट्रेड के दौरान बीएसई पर कंपनी के शेयर 4 फीसदी तक गिर गए और 4361 रुपये पर आ गए। कंपनी के शेयरों में यह गिरावट 3,689 करोड़ रुपये की ब्लॉक डील के बाद देखने को मिली है। यह ब्लॉक डील 4,406 रुपये प्रति शेयर के एवरेज प्राइस पर हुई।इंटरग्लोब एविएशन यानी इंडिगो ने आज ब्लॉक डील के जरिये कंपनी के 2.23 फीसदी यानी 83.7 लाख शेयरों की बिकवाली की। दरसअल, पहले माना जा रहा था कि कंपनी ब्लॉक डील के जरिये 2 फीसदी यानी 77 लाख शेयरों की बिकवाली 4,266 प्रति शेयर पर कर सकती है। हालांकि, अभी तक इस बात का पता नहीं चल सका है कि किसने कितने शेयरों की खरीदारी की है।

बता दें कि राहुल भाटिया और उनकी फैमिली इंटरग्लोब एविएशन की प्रमोटर हैं। उनकी इंटरग्लोब एविएशन में कुल हिस्सेदारी 37.75 फीसदी है। लेनदेन में भाटिया फैमिली को आगे की हिस्सेदारी बेचने से पहले 365 दिनों की लॉक-इन अवधि भी दी जाएगी।एक सूत्र के हवाले से बताया कि कई सालों में ऐसा पहली बार है कि राहुल भाटिया वैल्यू अनलॉक करने और कुछ रिटर्न हासिल करने पर विचार कर रहे हैं।10:06 बजे इंडिगो यानी इंटरग्लोब एविएशन के शेयरों में 3.69 फीसदी की गिरावट देखने को मिली और ये 4,398.10 रुपये पर ट्रेड कर रहे थे।

कंपनी के शेयर 4,400 रुपये पर ओपन हुए थे, जबकि इंट्रा डे के दौरान अभी तक 4,474.30 के हाई और 4,372.55 के लो लेवल तक पहुंचे। इसके शेयर कल यानी 10 जून को 4,566.60 पर क्लोज हुए थे।ढ्ढठ्ठस्रद्बद्दश के शेयरों में 1 साल में 75 फीसदी के करीब उछाल देखने को मिला है, जबकि 6 महीने में इसके शेयरों में 50 फीसदी से ज्यादा की बढ़त देखने को मिली।गौरतलब है कि देश की सबसे बड़ी एयरलाइन कंपनी इंडिगो अपने बिजनेस में विस्तार कर रही है। कंपनी ने हाल ही में अपने विमानों में बिजनेस क्लास की सुविधा शुरू करने की घोषणा की थी। फिलहाल उसके सभी 370 विमानों में केवल इकॉनमी क्लास की सीटें हैं। पिछले साल जून में कंपनी ने 500 ए320नियो कैटेगरी के विमानों का ऑर्डर दिया था जो दुनिया का सबसे बड़ा विमान ऑर्डर था। इस साल अप्रैल में उसने 30 ए 350 वाइड बॉडी विमानों के लिए एक अन्य ऑर्डर दिया है।

Next Story
Share it