कमजोर वैश्विक संकेतों के बावजूद सेंसेक्स, निफ्टी में लगातार दूसरे दिन बढ़त

  • whatsapp
  • Telegram
  • koo
कमजोर वैश्विक संकेतों के बावजूद सेंसेक्स, निफ्टी में लगातार दूसरे दिन बढ़त

टीसीएस और इंफोसिस जैसे आईटी दिग्गजों के चलते बेंचमार्क सेंसेक्स और निफ्टी50 में लगातार दूसरे दिन बढ़त हुई। हालांकि, लाल सागर में जहाजों पर हमलों से मिले कमजोर वैश्विक संकेतों और डॉलर में तेज उछाल ने बढ़त को थोड़ा सीमित कर दिया।

सेंसेक्स दिन के अंत में 179 अंक या 0.25 प्रतिशत बढ़कर 72,026.15 पर बंद हुआ। उधर, निफ्टी 52 अंक या 0.24 प्रतिशत ऊपर 21,710.80 पर बंद हुआ। कारोबारी सत्र के दौरान टाटा मोटर्स, भारती एयरटेल, एनटीपीसी, पावर ग्रिड और इंडसइंड बैंक सहित लगभग 500 स्टॉक 52-सप्ताह के नए उच्चतम स्तर पर पहुंच गए। बीएसई मिडकैप इंडेक्स 0.19 फीसदी की बढ़त के साथ 37,706.55 पर बंद हुआ, जबकि बीएसई स्मॉलकैप इंडेक्स 0.61 फीसदी की बढ़त के साथ 43,819.39 पर बंद हुआ।

व्यापक बाजार ने बीएसई मिडकैप और स्मॉलकैप सूचकांकों में क्रमश: 2.4 प्रतिशत और 2.7 प्रतिशत की बढ़त के साथ बेहतर प्रदर्शन किया। बीएसई पर सूचीबद्ध कंपनियों का कुल बाजार पूंजीकरण अब 370 लाख करोड़ रुपये के करीब है। बीएसई पर पंजीकृत निवेशकों की संख्या 16 करोड़ के करीब है। निफ्टी में शीर्ष लाभ पाने वालों में अदानी पोर्ट्स (2.65 प्रतिशत ऊपर), लार्सन एंड टुब्रो (2.60 प्रतिशत ऊपर) और टीसीएस (1.96 प्रतिशत ऊपर) हैं।

जियोजित फाइनेंशियल सर्विसेज के शोध प्रमुख विनोद नायर ने कहा, घरेलू मोर्चे पर बाजार नतीजों के मौसम की ओर बढ़ रहा है। हमें लगता है कि अगर दिसंबर तिमाही की कमाई ठीक नहीं हुई तो सूचकांक का टेस्ट हो सकता है। एलकेपी सिक्योरिटीज में वरिष्ठ टेक्निकल एवं डेरिवेटिव विश्लेषक कुणाल शाह ने कहा, मौजूदा सेंटीमेंट्स तेजी का है, लेकिन निफ्टी को 21,750 पर बिकवाली का दबाव झेलना पड़ रहा है। तत्काल समर्थन 21,600 पर है। 21,750 के स्तर के ऊपर एक निर्णायक समापन निफ्टी को 22,000 अंक की ओर बढ़ा सकता है।


Next Story
Share it