Top

दो बच्चो की अवैध खनन के कारण बने मानक विहीन गड्ढ़े में डूबने से मौत हो गई है।

दो बच्चो की अवैध खनन के कारण बने  मानक विहीन गड्ढ़े में डूबने से मौत हो गई है।

बुंदेलखंड से लगातार अवैध खनन की खबरे सामने है लेकिन प्रशासन कान में ऊँगली और आँख पर पटटी बांधकर जैन की नींद सो रहा है। मामला जनपद के बिसंडा थाना क्षेत्र अंतर्गत पवई गांव का है जहां आज सुबह 10:00 बजे गांव के ही रहने वाले दो नौनिहाल बच्चे शिवम पुत्र श्याम सिंह एवं शिवम उर्फ छोटू पुत्र प्रमोद विश्वकर्मा उम्र 8 वर्ष की ठेकेदार द्वारा अवैध खनन मानक विहीन गड्ढ़े में डूबने से मौत हो गई है।

जानकारी के मुताबिक दोनों बच्चे खेतों की ओर टहलने गए थे जहां बुंदेलखंड एक्सप्रेस वे के लिए खेतों से ली गई मिट्टी के गड्ढों में एक का पैर फिसल जाने की वजह से गड्ढे में गिर गया और डूबने लगा जिस को बचाने को लेकर दूसरा बच्चा भी गड्ढे में कूद गया जहां दोनों की पानी में डूबने से दर्दनाक मौत हुई है।

घटना के बाद स्थानीय लोगों में काफी आक्रोश देखा गया है और परिवार में मातम का माहौल छा गया है घटना की जानकारी पर पहुंची पुलिस के द्वारा शवों का पंचनामा भर पोस्टमार्टम के लिए जिला मेडिकल कॉलेज बांदा भेजा गया है और पुलिस जांच में जुटी है।

आस पास के लोगो के अनुसार पता चला कि 'बुंदेलखंड एक्सप्रेस-वे' के लिए खेतों से ली गई मिट्टी के लिए ठेकदारों ने अवैध रूप से खनन कर रहे है इतना ही नहीं मानक से कंही बड़े गड्ढे खोदकर खेत को तलाब में तब्दील किया जा रहा है। जिसके बाद ये गड्ढे स्थानीय लोगो के लिए जी का जनजल बने है। आये दिन ये कथित गड्ढे हादसे को बुलावा दे रहे है।

लोगो ने बताया कि मानक विहीन मिट्टी खनन को लेकर के ठेकेदारों के द्वारा खेतों को तालाब के रूप में तब्दील कर दिया गया है। जिसके बाद आये दिन कोई जानवर या इंसान दुर्घटनाग्रस्त हो रहा है।

इन्ही गड्ढो ने आज 2 मासूमों की जान ले ली है। ठकदरों द्वारा खेत खोदकर बनाये गए गड्ढे में डूबने से आज बाँदा के बिसंडा थाना क्षेत्र अंतर्गत के रहने वाले 2 बच्चों की दर्दनाक मौत हुई है वही घटना के उपरांत परिवार में कोहराम मचा है और स्थानीय लोगों में आक्रोश व्याप्त है।

Next Story
Share it