पैसा ना देना पड़े इसलिए बिजनेस पार्टनर को ही रास्ते से हटाने का बना डाला प्लान

पैसा ना देना पड़े इसलिए बिजनेस पार्टनर को ही रास्ते से हटाने का बना डाला प्लान

चिनहट। राजधानी की चिनहट पुलिस ने ऐसे शातिर को गिरफ्तार किया है जिसने अपने बिजनेस पार्टनर को ही रास्ते से हटाने का सनसनीखेज प्लान बनाया और वह उसमें लगभग कामयाब भी हो गया था लेकिन अंत समय में भाड़े पर उसका साथ देने आए गुंडों के तमंचे की गोली मिस हो गई और किसी तरह से बिजनेस में पैसे लगाने वाले पार्टनर देवेश की जान बच सकी। और फिर देवेश ने अपने पार्टनर के खिलाफ नामजद f.i.r. करके मामले की जानकारी चिनहट पुलिस को दी चिनहट पुलिस ने तत्काल कड़ी कार्रवाई करते हुए मामले में शामिल और मामले के मुख्य आरोपी सहित सब को दबोच लिया।

पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार

राजाराम वर्मा उर्फ राजा वर्मा पुत्र जगतपाल वर्मा निवासी दोहरी दौलतपुर थाना लोनी कटरा जनपद बाराबंकी,

अरविन्द कुमार वर्मा पुत्र कृष्ण कुमार वर्मा निवासी भवनियापुर थाना लोनी कटरा जिला बाराबंकी,

नन्दन वर्मा पुत्र पारस नाथ वर्मा निवासी दोहरी दौलनपुर थाना लोनी कटरा जनपद बाराबंकी,

मुखबिर के सूचना पर 307 के अभियोग मे वांछित शातिर अभियुक्त को लौलाई मार्ग शहीद पथ के पास चिनहट लखनऊ से गिरफ्तार किया गया जिनके कब्जे से 01 अदद नाजायज तमंचा, एक अदद मिस कारतूस, एक अदद जिन्दा कारतूस, एक अदद नाजायज चाकू व 25,000/- रू0 नगद बरामद किया गया ।

बिजनेस में पार्टनर को पैसे ना देना पड़े इसलिए बना डाला मारने का प्लान

चालाक अरविंद वर्मा पर भरोसा करके बिजनेस में पैसे लगाने वाले पीड़ित देवेश त्रिपाठी ने पूछताछ पर बताया की विजनेस के सिलसिले मे मै अरविन्द वर्मा को 02 करोड़ 20 लाख रूपये दिया था। जब मै पैसे की मांग करता रहा तो अरविन्द कुमार वर्मा दिनांक 27.04.2022 को समय करीब 10 बजे अपने फार्म वर्मा इण्टरप्राइजेज पर पैसा देने के लिये बुलाया वादी मुकदमा के आने पर अरविन्द कुमार वर्मा ने कहा कि मेरा खाता हैदरगढ़ की शाखा मे है वहीं आप को पैसा ट्रांसफर करता हूं रास्ते मे जाने के बाद बीच मे प्लान बदल गया कहा मेरा खाता नगराम के दादुरी मे है दादुरी से निकालकर पैसा देता हूं। प्लान के अनुसार अरविन्द वर्मा अपने साथ थाना लोनी कटरा का H.S राजाराम वर्मा व नन्दन वर्मा जिनके पास तमंचा 315 बोर व कारतूस 315 बोर व एक चाकू मौजूद थी वह भी गाड़ी में बैठे थे। अरविन्द वर्मा समय व नजाकत को देखते हुए ग्राम दादुरी सुनसान स्थान पर गाड़ी रोककर कहा कि साले को मार दो मुझको रोज-रोज पैसा देना पड़ता फायर करने पर कारतूस मिस कर गयी जिसमे देवेश हड़बड़ा कर गेट खोलकर भागने लगा भागते समय उसकी जेब मे रखे 40,000/- रुपये नकद छीन लिये। पुलिस ने तीनों आरोपियों को गिरफ्तार कर संगीन धाराओं में मुकदमा दर्ज कर जेल भेज दिया है।

Next Story
Share it