मरीजों को सरकारी अस्पताल से प्राइवेट अस्पताल पहुंचाने वाले दलालों को पुलिस ने पकड़ा

मरीजों को सरकारी अस्पताल से प्राइवेट अस्पताल पहुंचाने वाले दलालों को पुलिस ने पकड़ा



विभूति खंड। राजधानी के विभिन्न अस्पतालों से आए दिन अखबारों में यह खबर देखने को मिल जाती है कि दलालों ने सरकारी अस्पताल से बहला-फुसलाकर पेशेंट को प्राइवेट अस्पताल तक पहुंचाया और जहां पर उसे पैसा कमाने का जरिया बना लिया गया। किसी की जान बचे या ना बचे लेकिन सरकारी अस्पतालों के बाहर पूरी तरह से मुस्तैद यह दलाल अपने काम को बखूबी अंजाम देते हैं। पैसे हो या ना हो इलाज कराने के लिए घरबार जमीन जायदाद गहने सब बिक जाएं लेकिन अस्पतालों के बाहर जमा दलालों के चक्रव्यूह में जो फंस गया उसका फिर भगवान ही मालिक है। इसी क्रम में काम करती विभूति खंड पुलिस के हाथ बड़ी सफलता लगी है।

पुलिस ने चार ऐसे शातिर दलालों को गिरफ्तार किया है जो डॉ राम मनोहर लोहिया सहित विभिन्न सरकारी अस्पतालों के पास से मरीजों को प्राइवेट अस्पतालों तक पहुंचाते थे और उनसे मोटी रकम वसूलते थे। पुलिस के मुताबिक सोनवापार, थाना बेलीपार गोरखपुर निवासी ध्रुव पांडेय, पिरखौली थाना रौनाही अयोध्या निवासी प्रियांशु, रहमान पुर थाना चिनहट लखनऊ निवासी पवन, तथा अर्पण हॉस्पिटल विभूति खंड लखनऊ मूल रूप से कन्नौज निवासी सुमित कुमार, को पुलिस ने सरकारी हॉस्पिटल से मरीजों को इधर उधर करने के आरोप में गिरफ्तार किया है। पुलिस लोगों के जीवन के साथ खिलवाड़ करने वाले चारों आरोपियों को गिरफ्तार कर कड़ी पूछताछ के साथ आगे की कार्रवाई में जुट गई है।

Next Story
Share it