Top

50 साल की आंगनवाड़ी सहायिका की गैंगरेप के बाद हत्या के मामले में राजनीति तेज

50 साल की आंगनवाड़ी सहायिका की गैंगरेप के बाद हत्या के मामले में राजनीति तेज


नई दिल्ली, 06 जनवरी (हि.स.)। उत्तर प्रदेश के बदायूं जिले में 50 साल की आंगनवाड़ी सहायिका की गैंगरेप के बाद हत्या के मामले में राजनीति तेज हो गई है। कांग्रेस पार्टी ने इस घटना को दुखद बताते हुए योगी आदित्यनाथ सरकार पर हमला बोला है। उसका कहना है कि राज्य कानून व्यवस्था पूरी तरह तहस-नहस हो चुकी है और योगी सरकार की लापरवाही से अपराधियों के हौसले बुलंद हैं।

कांग्रेस नेता अलका लांबा ने बुधवार को पार्टी मुख्यालय में पत्रकारवार्ता में कहा कि हाथरस के बाद अब बदायूं में भी पुलिस और प्रशासन की मिली भगत से न्याय तक पीड़ित की पहुंच को दुष्कर बनाया जा रहा है। उन्होंने कहा कि 50 साल की आंगनवाड़ी सहायिका के साथ गैंगरेप किया जाता है, उसके साथ विभत्सता होती है और फिर हत्या कर दी जाती है। ऐसे में पीड़ित को न्याय दिलाने की जगह राज्य की पुलिस मामले को दबाने की कोशिश में लगी है। पुलिस ने केस को छुपाने के लिए दो दिन तक पोस्टमार्टम ही नहीं कराया। उन्होंने सवाल किया कि आखिर आदित्यनाथ कब तक अपनी नाकामी पर पर्दा डालते रहेंगे?

लांबा ने कहा कि कांग्रेस पार्टी की मांग है कि इस मामले में पुलिस प्रशासन जिम्मेदारी निभाते हुए आरोपितों की जल्द गिरफ्तारी सुनिश्चित करे। साथ ही पूरे मामले की जांच हाईकोर्ट के न्यायाधीश से कराने तथा पीड़ित के परिजनों को 50 लाख रुपये की आर्थिक मदद पहुंचाई जाए।

हिन्दुस्थान समाचार/आकाश/सुनीत

Next Story
Share it