शराब व्यापारियों की मांग बढ़ाया जाए लाभांश

शराब व्यापारियों की मांग बढ़ाया जाए लाभांश

लखनऊ।उत्तर प्रदेश के शराब व्यापारीयों ने शराब व्यवसाय में लाभांश बढ़ाए जाने की मांग की है। व 2022-23 से अंग्रेजी व बीयर का कोटा खत्म करते हुए आने वाले करोना काल की नीति बनाई जाने को लेकर(शराब कारोबारी पिछले 2 वर्षों मैं अत्यधिक अधिक नुकसान में है)3 वर्षों का नवीनीकरण की मांग की है। जिससे व्यापारी की स्थिति ठीक हो सके शराब विक्रेता वेलफेयर एसोसिएशन(उत्तर प्रदेश) के पदाधिकारियों एवं प्रमुख शराब कारोबारियों की प्रदेश स्तरीय बैठक एवं प्रेस वार्ता 6 दिसंबर को जनपद लखनऊ के एलोरा होटल में संपन्न हुई जिसमें एसोसिएशन के अध्यक्ष सरदार एसपी सिंह ने बताया वर्ष 2022-23की नीति में प्रदेश सरकार फुटकर शराब व्यापारी का लाभांश बढ़ाए जो कि पिछले 10 वर्षों में कम हो गया है अंग्रेजी व बीयर का कोटा खत्म किया जाए उपरोक्त विषय के तहत सरकार द्वारा बुलाए जाने पर 13 नवंबर को माननीय आबकारी आयुक्त व कई आबकारी नीति के अधिकारियों से गन्ना संस्थान में महत्वपूर्ण बैठक हुई थी जिसमें एसोसिएशन व उत्तर प्रदेश के बड़े व्यापारियों ने यही मांग की थी कि लाभांश बढ़ाया जाए अंग्रेजी तथा बीयर का कोटा खत्म किया जाए यदि यह मांगे पूरी नहीं होती है तो नवीनीकरण का प्रतिशत बहुत गिर जाएगा।

Tags:    Crime 
Next Story
Share it