रुपये भरी बैग कार से चोरी कर भाग रहे चोर को प्रापर्टी डीलर ने पकड़ कर किया पुलिस के हवाले

रुपये भरी बैग कार से चोरी कर भाग रहे चोर को प्रापर्टी डीलर ने पकड़ कर किया पुलिस के हवाले

लखनऊ कमिश्नरेट के पश्चिम जोन के ठाकुरगंज थाना क्षेत्र टप्पेबाजों और चोरों के निशाने पर है । टप्पेबाज़ों के द्वारा 48 दिन पूर्व बालागंज चौकी से महज 200 मीटर की दूरी पर जिस प्रॉपर्टी डीलर की कार से 5 लाख रुपए से भरा बैग चोरी किया गया था उसी प्रॉपर्टी डीलर के मित्र की गाड़ी से आज एक नाबालिग युवक नोटों से भरा पर्स चुराकर भागा । इत्तेफाक से पर्स चुरा कर भाग रहे युवक पर प्रॉपर्टी डीलर की नजर पड़ गई और उन्होंने युवक को दौड़ाकर पकड़ लिया लेकिन वो पर्स बरामद नहीं हुआ जो युवक कार से चुरा कर भाग रहा था । प्रॉपर्टी डीलर ने युवक को पकड़ कर पुलिस के हवाले कर दिया है हालांकि पुलिस इस घटना को टप्पेबाजी की घटना से जोड़ कर नहीं देख रही है। इंस्पेक्टर का कहना है कि दौड़ा कर पकड़ा गया युवक नाबालिक है और यह भी हो सकता है कि युवक भूखा हो और पेट भरने के लिए उसने चोरी का प्रयास किया है पूरे मामले की जांच की जारही है।

जानकारी के अनुसार रस्तोगी नगर बालागंज ठाकुरगंज के रहने वाले प्रॉपर्टी डीलर जितेंद्र सिंह के पिता का बालागंज स्थित चरक अस्पताल में इलाज चल रहा है जितेंद्र सिंह के पिता को देखने आज उनके कुछ रिश्तेदार अस्पताल आए थे उनकी कार चरक अस्पताल के बाहर खड़ी हुई थी कार की पिछली सीट पर एक पर्स रखा हुआ था जिसमें 5000 थे शाम करीब 6 बजे जब कार के बाहर जितेंद्र अपने कुछ रिश्तेदारों के साथ खड़े हुए थे तभी एक युवक उनकी कार का दरवाजा खोलकर पर्स चुराकर भागते देखा गया जितेंद्र ने काफी दूर तक उस युवक को दौड़ा कर पकड़ा लेकिन युवक के हाथ से वह पर्स बरामद नहीं हुआ जो उसने कार से चुराया था। प्रॉपर्टी डीलर जितेंद्र का कहना है कि यह घटना भी उसी तरह की घटना है जो 1 अक्टूबर को एचडीएफसी बैंक के पास उनके मित्र प्रॉपर्टी डीलर नोमान शिबली के साथ हुई थी 1 अक्टूबर को नोमान की कार से 5 लाख रुपए से भरा बैग टप्पेबाज बोनट से डीज़ल टपकने का झांसा देकर लेकर भागे थे । जितेंद्र का कहना है कि उन्हें पूरी उम्मीद है कि जिस युवक को उन्होंने पकड़ कर पुलिस को सौंपा है उसी युवक ने उनकी कार से पर्स चुराया और रास्ते में अपने किसी साथी को थमा दिया जितेंद्र सिंह का कहना है कि उन्हें पूरी उम्मीद एवं शक है कि जिस युवक को उन्होंने पकड़कर पुलिस के हवाले किया है उसके कई साथी आज भी उनकी कार के आसपास मौजूद थे और घटना के बाद सभी युवक भाग निकले । इस संबंध में इंस्पेक्टर ठाकुरगंज हरिशंकर चंद्र का कहना है कि जितेंद्र सिंह के द्वारा जिस युवक को पकड़ कर दिया गया है वो युवक नाबालिक है और यह भी मुमकिन है कि वह चोर न हो और भूख की वजह से उसने कार से पर्स चुराने की कोशिश की हो उनका कहना है कि वैसे भी युवक के पास से वह पर्स बरामद नहीं हुआ है उन्होंने कहा कि युवक से पूछताछ की जा रही है और पूछताछ के आधार पर जो भी जानकारियां निकल कर आएंगी उसके आधार पर कार्यवाही की जाएगी। आपको बता दें कि 1 अक्टूबर को ठाकुरगंज थाना क्षेत्र में नोमान शिबली की कार से 500000 से भरा बैग चोरी हुआ था उसके बाद एक 60 वर्षीय महिला समंदर मिश्रा से नकली पुलिस कर्मियों के द्वारा बालागंज क्षेत्र में ही उनकी सोने की चैन हड़प ली गई थी । उन दोनों घटनाओं का भी अभी ठाकुरगंज पुलिस खुलासा नहीं कर सकी है । बाहरहाल देखने वाली बात यह होगी कि प्रॉपर्टी डीलर जितेंद्र सिंह का पकड़े गए युवक पर शक सच साबित होता है या इंस्पेक्टर ठाकुरगंज के द्वारा कहीं गई बातें सच होती हैं सच्चाई तो जांच के बाद ही निकल कर सामने आएगी।

Next Story
Share it