Top

लखनऊ यूनिवर्सिटी मना रही अपना शताब्दी समारोह, लखनऊ विश्वविद्यालय उपलब्धियों का जीता जागता इतिहास।

लखनऊ यूनिवर्सिटी मना रही अपना शताब्दी समारोह, लखनऊ विश्वविद्यालय उपलब्धियों का जीता जागता इतिहास।


लखनऊ यूनिवर्सिटी स्थापना के 100 साल पूरे होने का जश्न मना रही है। इस मौके पर पीएम मोदी ने लखनऊ विश्वविद्यालय को शताब्दी वर्ष की शुभकामनाएं दी। मोदी ने कहा कि सौ वर्ष का समय एक आंकड़ा नहीं है। अपार उपलब्धियों का एक जीता जागता इतिहास है। यहां देश दुनिया के लिए अनेक प्रतिभाओं को बनते हुए देखा है। यहां के छात्र अनेक जगह पहुंचे। उन्होंने कहा कि मैंने जब भी यहां से पढ़े लोगों से इस विश्वविद्यालय के बारे में बात की उनकी आंखों चमक आ जाती है।

उन्होंने शताब्दी स्मारक सिक्के का अनावरण भी किया। मैसूर यूनिवर्सिटी और बनारस हिंदू यूनिवर्सिटी के बाद लखनऊ यूनिवर्सिटी तीसरी ऐसी यूनिवर्सिटी बन जाएगी, जिसके 100 साल पूरे होने पर स्मारक सिक्का जारी किया गया। कुलपति आलोक कुमार राय ने कहा कि यह सिर्फ एक सिक्का नहीं है, बल्कि एक अमूल्य ऐतिहासिक धरोहर है और यूनिवर्सिटी के 100 साल की श्रेष्ठता का प्रतीक भी है। इस सिक्के को मुंबई में सरकारी टकसाल में बनाया गया है। यह यूनिवर्सिटी के खजाने में एक संपत्ति होगी। सिक्का बनाने में चांदी, कांस्य, तांबा और निकल का इस्तेमाल किया गया है।

देश को प्रेरित और प्रोत्साहित करने वाले नागरिकों का निर्माण शिक्षा के ऐसे संस्थानो में ही होता है। लखनऊ यूनिवर्सिटी दशकों से अपने इस काम को बखूबी निभा रही है। बीकानेर के जाने-माने मुद्रावादी सुधीर लूनावत के अनुसार, यह एक नॉन-सर्कुलेटिंग सिक्का होगा और इसमें वर्ष 1920-2020 के साथ-साथ अंग्रेजी और हिंदी में 'लखनऊ विश्वविद्यालय शताब्दी समारोह' लिखा होगा और केंद्र में यूनिवर्सिटी का 'लाइट एंड लर्निंग' लोगो होगा।

1920 में हुई थी स्थापना।

लखनऊ यूनिवर्सिटी की स्थापना 1920 में हुई थी। ऐसे में यह साल यूनिवर्सिटी के 100वें साल के रूप में मनाया जा रहा है। यूनिवर्सिटी से करीब 160 कॉलेज एफिलिएटेड हैं। आज होने वाले कार्यक्रम में रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह, प्रदेश की राज्यपाल आनंदीबेन पटेल और राज्य के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ भी शामिल होंगे। इससे पहले मुख्यमंत्री ने लखनऊ यूनिवर्सिटी के शताब्दी समारोह का उद्घाटन किया था। इस दौरान उन्होंने राज्य में नई राष्ट्रीय शिक्षा नीति के क्रियान्वयन के बारे में भी चर्चा की।

5 दिनों से चल रहा शताब्दी दिवस समारोह

लखनऊ विश्वविद्यालय के शताब्दी समारोह के तहत रविवार को साहित्यिक उत्सव का आयोजन किया गया। इसमें फिल्म अभिनेता अनुपम खेर ने भी वर्चुअली हिस्सा लिया। स्पेन से आए मेहमानों ने यूनिवर्सिटी के इतिहास और आधुनिक विकास के बारे में जानकारी प्राप्त की। वहीं, बीते सोमवार को हुए कार्यक्रम में कवि डॉक्टर कुमार विश्वास ने शिरकत की।

ज्योति जयसवाल।

Next Story
Share it