लखनऊ विश्वविद्यालय में पोषण युक्त आहार का वितरण एवं कोरोना की तीसरी लहर के प्रति जागरूकता कार्यक्रम का आयोजन

लखनऊ विश्वविद्यालय में पोषण युक्त आहार का वितरण एवं कोरोना की तीसरी लहर के प्रति जागरूकता कार्यक्रम का आयोजन

लखनऊ विश्वविद्यालय द्वारा गोद लिए गए बच्चों एवं उनके परिवार के सदस्यों के साथ उक्त शीर्षक पर कार्यक्रम का आयोजन किया गया। इस कार्यक्रम में सर्व प्रथम, प्रो अनूप कुमार भारतीय, विभगाध्यक्ष, समाज कार्य विभाग, पंडित दीनदयाल उपाध्याय शोधपीठ, ने सभी लोगो का हार्दिक अभिनंदन एवं स्वागत किया। कार्यक्रम में विभगाध्यक्ष एवं निदेशक ने राज्यपाल श्रीमती आनंदीबेन पटेल एवं प्रोफेसर अलोक राय, कुलपति, लखनऊ विश्वविद्यालय द्वारा दिए गए निर्देशों को दृष्टिग्रत रखते हुए बच्चों को तथा उनके परिवार के लोगो को कोरोना की तीसरी लहर के बारे में बताया और सावधान रहने के लिये कहा क्योंकि विशेषज्ञों द्वारा बताया गया है कि तीसरी लहर में बच्चों के अधिक प्रभावित होने की आशंका है।

इसके साथ यह भी बताया कि किस प्रकार हम लोगों को बचना है और आस पास के लोगो को भी जागरूक करना है। प्रोफ़ अनूप कुमार भारतीय ने यह भी बताया कि शैक्षणिक संस्थानों में बालिकाएं प्रवेश लेने के बाद भी शिक्षा को पूरा नहीं कर पाती है जो कि बच्चों के विकास एवं शिक्षा के परिपेक्ष्य में एक बहुत बड़ी बाधा है। शिक्षा को बीच में ही छोड़ देने से, विशेषकर बालिकाएं को किस प्रकार से प्रोत्सहित किया जाये और उनके परिवार को किस प्रकार से सामाजिक जीवन धारा में वापस लाने के लिए क्या जाये, पर विस्तृत रूप में चर्चा की।

इसके अतिरिक्त प्रोफ़ अनूप कुमार भारतीय, विभगाध्यक्ष समाज कार्य विभाग एवं निदेशक, दीनदयाल उपाध्याय शोधपीठ द्वारा गोद लिए बच्चों को पोषण युक्त सामग्री वितरित की गयी साथ में बच्चों के परिवार के आये हुए अभिभावक को लगभग 1 महीने का राशन का वितरण किया। पूरे कार्यक्रम के दौरान कोरोना नियमो का पालन किया गया और उसके प्रति जागरूक भी किया गया। कार्यक्रम के समय विभाग के शिक्षकगण, कर्मचारीगण उपस्थित रहे।

अराधना मौर्या

Next Story
Share it