इंजीनियरिंग और डिप्लोमा छात्रों को बड़ी राहत, कॉलेज में इस साल नहीं बढ़ेगी फीस

इंजीनियरिंग और डिप्लोमा छात्रों को बड़ी राहत, कॉलेज में इस साल नहीं बढ़ेगी फीस

कोरोना के मद्देनजर पैदा हुई परिस्थितियों को देखते हुए छात्र हित में योगी सरकार ने यूपी में इंजीनियरिंग और पॉलिटेक्निक कॉलेज में इस साल फीस में बढ़ोतरी नहीं करने का एक बड़ा फैसला लिया है. यूपी सरकार ने प्राविधिक शिक्षा विभाग के अधीन संचालित एकेटीयू निजी क्षेत्रों के 1247 डिप्लोमा स्तर और 19 अनुदानित संस्थाओ में चल रहे पाठ्यक्रम में जो पिछले साल की फीस थी, वही इस साल भी रहेगी.

यूपी सरकार के द्वारा लिए गए इस बड़े फैसले से एकेटीयू से संबंध निजी क्षेत्र के लगभग 750 इंजीनियरिंग कॉलेज और प्राविधिक शिक्षा परिषद उत्तर प्रदेश से संबद्ध निजी क्षेत्र के 1247 डिप्लोमा स्तरीय और 19 अनुदानित संस्थाओ में पढ़ने वाले छात्र छात्रओ को इसका लाभ मिलेगा. राज्य सरकार इससे पहले प्राइमरी व माध्यमिक शिक्षा से संबंधित सभी स्कूलों में न सिर्फ फीस वृद्धि पर रोक लगा चुकी है बल्कि तीन महीने का शुल्क एक साथ लेने पर भी रोक है. यह आदेश सभी बोर्डों के स्कूलों पर लागू होगा. इसके साथ ही कोरोना काल के बीच बंद रहने की अवधि में किसी भी शिक्षार्थी या उसके माता-पिता से परिवहन का शुल्क नहीं वसूला जाएगा.

प्रदेश सरकार की तरफ से इससे पहले B.Ed में भी इसी तरह की व्यवस्था की गई. सरकार ने बीएड कॉलेजों की फीस में कटौती कर दी है. अब, दो साल के इस कोर्स की पढ़ाई करने के लिए करीब 10 हजार रुपये कम देने होंगे. शैक्षिक सत्र 2021-22 में दाखिला लेने वाले छात्रों को प्रथम वर्ष में 45 हजार रुपए और दूसरे वर्ष में 25 हजार रुपए का शुल्क देना होगा. पहले दोनों वर्ष का शुल्क करीब 80,000 रुपये हुए करता था.


अराधना मौर्या


Next Story
Share it