योगी सरकार का बड़ा फैसला, लाइफटाइम वैलिड होगा यूपीटीईटी का प्रमाणपत्र

योगी सरकार का बड़ा फैसला, लाइफटाइम वैलिड होगा यूपीटीईटी का प्रमाणपत्र

यूपी में टीईटी को लाइफटाइम वैलिड करने के प्रस्ताव को सीएम योगी आदित्यनाथ ने हरी झंडी दे दी है। आपको बता दें कि अभी तक यूपी में टीईटी प्रमाणपत्र पांच वर्ष के लिए मान्य है। हर पांच साल के बाद उम्मीदवारों को दोबारा यूपी टीईटी परीक्षा पास करनी होती थी। आपको बता दें कि हाल ही में केंद्रीय शिक्षा मंत्रालय ने टीईटी को आजीवन मान्य करने के लिए आधिकारिक घोषणा की थी। अब यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने भी इस फैसले को हरी झंडी दे दी है। इससे राज्य में सरकारी स्कूलों में शिक्षकों की नौकरी का सपना देख रहे कई उम्मीदवारों को लाभ होगा।

आपको बता दें कि बीते दिनों केंद्र सरकार ने शिक्षक पात्रता यानी टीचर्स एलिजिबिलिटी टेस्ट की वैधता आजीवन करने का निर्णय लिया थी। इससे पहले तक शिक्षक पात्रता टेस्ट की वैधता परीक्षा के वर्ष से अगले 7 वर्ष तक के लिए मान्य होती थी। टीईटी सर्टिफिकेट की वैधता लाइफटाइम करने की घोषणा करते केंद्रीय शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक ने संबंधित राज्यों से इसे अजीवन वैध करने की अपील की थी। जिसके बाद अब योगी सरकार ने इसकी मंजूरी दे दी है।

केंद्र के अनुसार यह आदेश 2011 से प्रभावी होगा।यूपी में जुलाई 2011 में नि:शुल्क एवं अनिवार्य बाल शिक्षा का अधिकार कानून लागू होने के बाद यूपी बोर्ड ने पहली बार 13 नवंबर 2011 को टीईटी कराई गई थी। उसके बाद से परीक्षा नियामक प्राधिकारी ये परीक्षा आयोजित कराता है। प्राइमरी व जूनियर स्कूलों यानी कक्षा एक से आठ तक पढ़ाने के लिए टीईटी अनिवार्य होता है। अब पात्रता आजीवन रहने पर अभ्यर्थियों को बार-बार परीक्षा में बैठने से मुक्ति मिलेगी और आवेदन शुल्क भी नहीं देना पड़ेगा। वहीं परीक्षा इंतजामों पर खर्च से भी निजात मिलेगी।


अराधना मौर्या


Next Story
Share it