मन और कर्म से स्वच्छता अभियान में करें योगदानः कुलपति प्रो0 प्रतिभा गोयल

  • whatsapp
  • Telegram
  • koo
मन और कर्म से स्वच्छता अभियान में करें योगदानः कुलपति प्रो0 प्रतिभा गोयल

अयोध्या। डाॅ0 राममनोहर लोहिया अवध विश्वविद्यालय की कुलपति प्रो0 प्रतिभा गोयल के नेतृत्व में स्वच्छता अभियान चलाया गया। परिसर में प्रातः 10 बजे कुलपति सहित शिक्षकों, अधिकारियों, कर्मचारियों एवं छात्र-छात्राओं द्वारा परिसर में झाडू लगाकर स्वच्छता का संदेश दिया गया। कुलपति प्रो0 गोयल ने कहा कि मन की स्वच्छता सबसे बड़ी स्वच्छता होती है। इसलिए जीवन के राग, द्वेष एवं एक दूसरे के प्रति कड़वाहट को दूर करना होगा। कुलपति ने कहा कि महात्मा गांधी एवं प्रधामनंत्री का यही संकल्प है कि हम न सिर्फ भारत को बल्कि पूरे जगत को स्वच्छ बनाये रखे। उन्होंने स्वच्छता के सम्बन्ध में कहा कि हमारें शास्त्रों, पुराणों, वेदों बहुत कुछ कहा गया है। यदि वातावरण, शरीर, मन, बुद्धि स्वस्थ रहेगी तो वही माॅ लक्ष्मी का वास होगा

और दैवीयं शक्तियां पधारेंगी। इसलिए जीवन में स्वच्छता का होना बहुत जरूरी है। कुलपति ने सभी से कहा कि विद्यार्थियों में स्वच्छता की भावना पैदा करें। इसकी शुरूआत स्वयं से करनी होगी। प्रायः देखने को मिलता है कि लोग अपने घर का कचरा निकालकर अपने आस-पास, गलियों एवं मुहल्लों में फेक देते है। ऐसा नही करना चाहिए। अपने घर को स्वच्छ रखने के साथ अपने आस-पास के स्थान को भी स्वच्छ रखे। कुलपति प्रो0 गोयल ने कहा कि इसके साथ ही समाज में फैली बुराईयों की स्वच्छता भी जरूरी है। मन और कर्म दोनों से स्वच्छता में योगदान करें।

इस अभियान में अधिष्ठात छात्र कल्याण प्रो0 नीलम पाठक ने कहा कि 01 अक्टूबर को राष्ट्रीय स्वच्छता दिवस मनाया जाता है। सभी को मिलकर अपने आस-पास के वातावरण को स्वच्छ रखना होगा। इस अभियान में परीक्षा नियंत्रक उमानाथ, प्रो0 आशुतोष सिन्हा, प्रो. चयन कुमार मिश्र, गंगा राम मिश्र, प्रो. शैलेन्द्र कुमार वर्मा, डाॅ0 अनिल कुमार, डाॅ0 विजयेन्दु चतुर्वेदी, आशुतोष श्रीवास्तव, डाॅ0 राजेश सिंह, अभियंता आर के सिंह, राजीव तिवारी, गिरीश चन्द्र पंत, आशीष मौर्य, संतोष चतुर्वेदी, राम जी सिंह, प्रवीण मिश्रा सहित बड़ी संख्या में शिक्षक, अधिकारी, कर्मचारी एवं छात्र-छात्राओं ने श्रमदान किया।

Next Story
Share it