भारत के सतत् विकास में सीएसआर महत्वपूर्णः प्रो0 एम0बी0 शुक्ला

  • whatsapp
  • Telegram
  • koo
भारत के सतत् विकास में सीएसआर महत्वपूर्णः प्रो0 एम0बी0 शुक्ला

अयोध्या। डाॅ0 राममनोहर लोहिया अवध विश्वविद्यालय के 28 वें दीक्षांत समारोह के अन्तर्गत व्यवसाय प्रबंध एवं उद्यमिता विभाग में दीक्षांत सप्ताह के तहत भारत के सतत विकास में कॉरपोरेट का सामाजिक उत्तरदायित्व विषय पर एक व्याख्यान का आयोजन किया गया।

कार्यक्रम के बतौर मुख्य वक्ता प्रो0 एम0बी0 शुक्ला, सेवानिवृत्त आचार्य, महात्मा गाँधी काशी विद्यापीठ विश्वविद्यालय, वाराणसी रहे। उन्होंने कहा कि कॉरपोरेट जगत की जिम्मेदारी होती है कि वह सीएसआर का उपयोग सामाजिक उत्थान में करें। इससे भारत का सतत विकास होगा। देश के साथ समाज, कर्मचारियों एवं लोगों के उन्मूलन में सीएसआर का महत्वपूर्ण योगदान है। इसका उपयोग कॉरपोरेट जगत, पर्यावरण संरक्षण, गरीबी उन्मूलन में भरपूर योगदान है।

कार्यक्रम में व्यवसाय प्रबंध एवं उधमिता विभाग के विभागाध्यक्ष प्रो0 हिमांशू शेखर सिंह ने कहा कि सीएसआर फंड का भारत के विकास में प्रमुख भूमिका है। कार्यक्रम में प्रो अशोक शुक्ला, प्रो शैलेन्द्र कुमार वर्मा, डॉ राना रोहित सिंह, डॉ निमिष मिश्रा, डॉ आशुतोष पांडेय, डॉ श्रीष अस्थाना, डॉ रामजीत सिंह यादव, डॉ अंशुमान पाठक, डॉ रामजी सिंह, डॉ राकेश कुमार, डॉ आशीष पटेल, डॉ प्रियंका सिंह, डॉ अनिता मिश्रा, डॉ रवींद्र भारद्वाज, डॉ अनुराग तिवारी, डॉ कापिल देव, डॉ प्रवीण राय, डॉ संजीत पांडेय, डॉ सूरज सिंह, डॉ नवनीत श्रीवास्तव, डॉ महेन्द्र पाल सिंह सहित अन्य मौजूद रहे।

Next Story
Share it