महात्मा गांधी काशी विद्यापीठ के संविदा अध्यापक वेतन भुगतान के लिए पिछले 12 दिन से गांधी जी के मूर्ति की छत्रछाया में सत्याग्रह स्थल पर बैठे हैं

महात्मा गांधी काशी विद्यापीठ के संविदा अध्यापक वेतन भुगतान के लिए पिछले 12 दिन से गांधी जी के मूर्ति की छत्रछाया में सत्याग्रह स्थल पर बैठे हैं

वाराणसी,13नवम्बर। महात्मा गांधी काशी विद्यापीठ के संविदा अध्यापकों का अपने 4 महीनों के वेतन भुगतान के लिए पिछले 12 दिन से प्रशासनिक भवन के सामने गांधी जी के मूर्ति की छत्रछाया में सत्याग्रह स्थल पर बैठे हैं। शुक्रवार 13 नवंबर 2020 को सत्याग्रह पर बैठे संविदा शिक्षकों ने विभागाध्यक्ष एवं निर्देशकों के घरों पर जाकर अपनी मांगों से अवगत कराया और इसके साथ ही उन्हें दीपावली की शुभकामनाएं दी।

ज्ञात हो कि महात्मा गांधी काशी विद्यापीठ वाराणसी के मुख्य परिसर, गंगापुर तथा एनटीपीसी परिसर शक्तिनगर के अध्यापक अपने 4 महीनों के भुगतान को लेकर सत्याग्रह स्थल पर बैठे हैं। सत्याग्रह स्थल से संविदा अध्यापकों ने टीम बनाकर विश्वविद्यालय के निर्देशक, संकायाध्यक्ष एवं विभागाध्यक्ष के घरों में जाकर अपनी मांग से अवगत कराया। साथ ही शासनादेश की प्रति भेंट कर दिवाली की शुभकामनाएं दी।सत्याग्रह स्थल पर सत्याग्रहियों ने निर्णय लिया कि दीपावली में अपने घरों में दीप नहीं जलाएंगें। महात्मा गांधी काशी विद्यापीठ एनटीपीसी परिसर शक्तिनगर,सोनभद्र ललित कला विभाग की अध्यापिका श्रीमती अजय लक्ष्मी की पुत्री का देहावसान होने पर नन्ही परी की पुण्यआत्मा को शांति प्रदान हेतु 2 मिनट का मौन रखा गया। इस अवसर पर डॉ राजेश कुमार, डॉ रमेश मिश्रा, डॉ दिनेश सोनकर, प्रशांत विश्वकर्मा, डॉ प्रदीप कुमार , मदन लाल, डॉ अपर्णा त्रिपाठी, डॉ महेंद्र सोनकर मौजूद रहे।

Next Story
Share it