लखनऊ विश्वविद्यालय में NAAC आवेदन की तैयारी पर हुई बैठक, अंतिम लक्ष्य NAAC रैंकिंग में अच्छे ग्रेड प्राप्त करना.....

लखनऊ विश्वविद्यालय में NAAC आवेदन की तैयारी पर हुई बैठक, अंतिम लक्ष्य NAAC रैंकिंग में अच्छे ग्रेड प्राप्त करना.....

लखनऊ विश्वविद्यालय के कुलपति पकी अध्यक्षता में विश्वविद्यालय के IQAC निदेशक और उनकी टीम की एक बैठक संपन्न की गई। बैठक में आइक्यूएसी निदेशक प्रो राजीव मनोहर ने सबके समक्ष विश्वविद्यालय के NAAC आवेदन की तैयारी का संपूर्ण विवरण एक प्रेजेंटेशन के माध्यम से रखा।

IQAC के निदेशक प्रो राजीव मनोहर ने कहा कि विश्वविद्यालय का अंतिम लक्ष्य NAAC रैंकिंग में अच्छे ग्रेड प्राप्त करना है। उन्होंने कहा कि विश्वविद्यालय ने मान्यता के लिए NAAC ढांचे में आवेदन के लिए अपनी सभी आंतरिक आवश्यकताओं को पूरा कर लिया है।

उन्होंने उल्लेख किया कि इस विशेष रैंकिंग के लिए 5 वर्ष का डेटा प्रस्तुत किया गया है और लगभग 130 अलग अलग श्रेणियों पर सभी विवरणों के साथ सभी सहायक दस्तावेजों को एक ऑनलाइन प्रक्रिया में NAAC पोर्टल पर प्रस्तुत करने की तैयारी संपन्न कर ली गई हैं।


इस दिशा में लखनऊ विश्वविद्यालय ने अंतिम रूप में NAAC टेम्पलेट्स के अनुसार पिछले 5 सत्रों के लिए अपना डेटा तैयार किया है। "क्योंकि हम बड़ी संख्या में छात्रों को संभालने वाले एक बड़े विश्वविद्यालय हैं, हमारा डेटा बड़ा है और हमें आवश्यक स्वरूपों में दस्तावेज़ों को औपचारिक रूप देने के लिए बहुत प्रयास करने पड़ते हैं", उन्होंने टिप्पणी की।

लखनऊ विश्वविद्यालय आज यह तैयारी पूरी कर चुका है और बहुत जल्द फाइनल एप्लीकेशन विश्व विद्यालय की तरफ से जमा कर दी जाएगी। आज के प्रेजेंटेशन के बाद कुलपति प्रोफेसर आलोक कुमार राय ने समस्त आइक्यूएसी टीम को बधाई दी और उनके काम को सराहते हुए कहा की बहुत कम समय में विश्वविद्यालय के आइक्यूएसी टीम ने बहुत बड़ी संख्या में मिलने वाले डाटा को एक जगह संग्रहित किया व उसे जरूरी श्रेणियों में विभाजित भी किया।

बैठक में प्रस्तुत सभी ने एकमत से इस फाइनल प्रेजेंटेशन को सराहा, और यह उम्मीद जताई कि जल्द ही विश्वविद्यालय को NAAC द्वारा A ग्रेड से सम्मानित किया जाएगा।

अराधना मौर्या

Next Story
Share it