केंद्रीय शिक्षा मंत्रालय की नई बैग पॉलिसी से बच्चों के कंधों से कम हुआ स्कूल बैग का भार.....

केंद्रीय शिक्षा मंत्रालय की नई बैग पॉलिसी से बच्चों के कंधों से कम हुआ स्कूल बैग का भार.....


केंद्रीय शिक्षा मंत्रालय ने बेहद अहम कदम उठाते हुए स्कूली छात्रों के बस्ते के वजन घटाने का निर्णय लिया है। इसे लेकर सरकार ने नई बैग पॉलिसी भी जारी की है।

इसके मुताबिक, स्कूली बच्चों के बस्ते का वजन उनके वजन के दस फीसद से ज्यादा नहीं होना चाहिए। केंद्रीय शिक्षा मंत्रालय ने सभी राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों को नए शैक्षणिक सत्र के शुरुआत के साथ इस पर सख्ती से अमल का निर्देश भी दिया है।

बच्चों के बस्ते का वजन चेक करने के लिए स्कूलों में तौल मशीन रखी जाएगी और हर बच्चे के वजन के हिसाब से ही इसका आकलन किया जाएगा। प्रकाशकों को किताबों के पीछे उसका वजह भी छापना होगा। पहली कक्षा के छात्रों के लिए कुल तीन किताबें होंगी, जिनका कुल वजन 1,078 ग्राम होगा।

इसके साथ ही शिक्षा मंत्रालय ने यह भी साफ कर दिया कि स्कूली छात्रों के बस्ते में किताबों का वजन कितना होगा? जिसके तहत किताबों का वजन केवल 500 ग्राम से 3.5 किलोग्राम रहेगा, जबकि कॉपियों का वजन 200 ग्राम से 2.5 किलोग्राम रहेगा।

इसके साथ लंच बाक्स का वजन भी दो सौ ग्राम से एक किलोग्राम और पानी की बोतल का वजन भी दो सौ ग्राम से एक किलोग्राम के बीच निर्धारित किया गया। फिलहाल बस्ते का जो भी कुल वजन होगा, वह छात्र के शरीर के वजन का दस फीसद ही रहेगा।

शिवांग

Next Story
Share it