Top

नियुक्ति पत्र मिलते ही नलकूप ऑपरेटरों के चेहरे खिल उठे

नियुक्ति पत्र मिलते ही नलकूप ऑपरेटरों के चेहरे खिल उठे


प्रदेश के 3209 नवनियुक्त नलकूप ऑपरेटरों को नियुक्ति पत्र वितरित हुआ

वाराणसी में 34 नवनियुक्त नलकूप ऑपरेटरों को नियुक्ति पत्र मिला

प्रदेश सरकार ने महिला सशक्तिकरण की मिसाल पेश कर नलकूप ऑपरेटर पद पर पहली बार महिलाओं की नियुक्ति की

मुख्यमंत्री ने नवनियुक्त नलकूप ऑपरेटरों को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से नियुक्ति पत्र देते हुए उन्हें उनके प्रतिभा के लिये एवं उनके अभिभावकों को बधाई दी

प्रधानमंत्री की घोषणा 2022 तक किसानों का आय दोगुना करना है के अनुरूप मृदा परीक्षण हो या किसानों के खेतों तक पानी पहुंचाना प्रदेश सरकार सुनिश्चित करा रही है-मुख्यमंत्री

अब सरकारी नियुक्तियों में भेदभाव किसी के साथ नहीं हो रहा है, अन्याय और शोषण भी नहीं होने दिया जा रहा है, पूरी पारदर्शिता एवं निष्पक्षता के साथ नियुक्तियां हो रही है-योगी आदित्यनाथ

137000 पदों पर नियुक्तियां हो गई है, एक लाख से अधिक शिक्षकों की नियुक्ति हुई, जिससे शिक्षा की गुणवत्ता बढ़ी हैं

4 लाख सरकारी नौकरी देने की प्रक्रिया 3.5 वर्ष में शीघ्र ही पूरा हो जाएगा, 15 लाख लोगों को प्राइवेट सेक्टर से जोड़कर रोजगार उपलब्ध कराया गया

डेड़ करोड़ लोगों को स्वतः रोजगार से जोड़ा गया

उत्तर प्रदेश सरकार ने महिला सशक्तिकरण की मिसाल पेश करते हुए प्रदेश में पहली बार नलकूप ऑपरेटर के पद पर महिलाओं की नियुक्ति की है। जो प्रदेश में एक नई कार्य संस्कृति की शुरुआत मानी जा रही है।

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ बुधवार को मिशन रोजगार के तहत उत्तर प्रदेश के 3209 चयनित एवं प्रशिक्षण प्राप्त नवनियुक्त नलकूप ऑपरेटरों को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से नियुक्ति पत्र देते हुए उन्हें उनके प्रतिभा के लिये एवं उनके अभिभावकों को बधाई दी। पारदर्शी एवं निष्पक्ष तरीके से अभ्यर्थियों के चयन प्रक्रिया को सुनिश्चित किए जाने पर उन्होंने जनप्रतिनिधियों को भी बधाई दी। उन्होंने बताया कि प्रदेश में 23 लाख हेक्टेयर ऐसी भूमि खेतिहर भूमि है जहां नलकूप से सिंचाई होता है। जबकि उत्तर प्रदेश में 34000 सरकारी नलकूप है। नलकूप ऑपरेटरो का पद रिक्त होने के कारण 4-5 नलकूपों के संचालन नलकूप ऑपरेटरो पर रही। प्रदेश में 9000 से बढ़कर अब 12000 नलकूप चालकों की संख्या हो गई है। योगी आदित्यनाथ ने कहा कि प्रधानमंत्री की घोषणा है कि 2022 तक किसानों का आय दोगुना करना है। इसके लिए मृदा परीक्षण हो या किसानों के खेतों तक पानी पहुंचाना प्रदेश सरकार सुनिश्चित करा रही है। इससे जब उत्पादन बढ़ेगा तो किसान का आय भी दुगना होगा। उन्होंने नवनियुक्त नलकूप ऑपरेटरों को संबोधित करते हुए कहा कि किसानों के खेतों तक पानी पहुंचाना जिम्मेदारी है। साथ ही एक-एक बूंद जल की कीमत को भी समझे। एक-एक बूंद जल का संरक्षण सुनिश्चित करना है। बरसात के पानी का संरक्षण करना होगा। डार्क जोन से बचाना होगा और इसके फैलाव को भी रोकना होगा। अब सरकारी नियुक्तियों में भेदभाव किसी के साथ नहीं हो रहा है, अन्याय और शोषण भी नहीं होने दिया जा रहा है। 137000 पदों पर नियुक्तियां हो गई है। एक लाख से अधिक शिक्षकों की नियुक्ति हुई, जिससे शिक्षा की गुणवत्ता बढ़ी हैं। 4 लाख सरकारी नौकरी देने की प्रक्रिया 3.5 वर्ष में शीघ्र ही पूरा हो जाएगा। 15 लाख लोगों को प्राइवेट सेक्टर से जोड़कर रोजगार उपलब्ध कराया गया। डेड़ करोड़ लोगों को स्वतः रोजगार से जोड़ा गया।

कमिश्नरी सभागार में आयोजित नियुक्ति पत्र वितरण कार्यक्रम में वीडियो कांफ्रेंसिंग के द्वारा मुख्यमंत्री ने वाराणसी में नलकूप ऑपरेटर पद पर नवनियुक्त राहुल पाल से वार्ता करते हुए पूरी ईमानदारी एवं मेहनत के साथ अपने पद के दायित्व का निर्वहन करने को कहा। उन्होंने विशेष रूप से जोर देते हुए नवनियुक्त नलकूप ऑपरेटरों से कहा कि किसानों को शिकायत का अवसर न मिलने पाए। किसानों की आवश्यकता के अनुसार नलकूपों का संचालन हो, ताकि उनकी खेतों तक पानी पहुंच सके। उन्होंने नवनियुक्त ऑपरेटरों से कहां की यह अद्भुत क्षण है कि अपने ही जिला में सरकारी नौकरी करने तथा किसानों की सेवा का अवसर मिल रहा है, साथ ही जमीन से जुड़ने का भी अवसर मिल रहा है।

इस अवसर पर उत्तर प्रदेश के कैबिनेट मंत्री अनिल राजभर, विधायक सौरभ श्रीवास्तव, विधायक डॉ अवधेश सिंह वाराणसी जनपद के नवनियुक्त 34 नलकूप ऑपरेटरों को नियुक्ति पत्र वितरित किया। इस अवसर पर जिलाधिकारी कौशल राज शर्मा सहित अन्य विभागीय अधिकारी प्रमुख रूप से उपस्थित रहे।





Next Story
Share it