डायबिटीज को सीरियस न लेकर पैर खो कर भुगतना पड़ा खामियाजा: लोकेंद्र सिंह राजावत

डायबिटीज को सीरियस न लेकर पैर खो कर भुगतना पड़ा खामियाजा: लोकेंद्र सिंह राजावत

पूरी दुनिया में कोरोना ने लोगों को झकझोर कर रख दिया है। हर कोई इससे लड़ने का प्रयास कर रहा है। लेकिन वहीं अगर बात करें भारत की तो यहाँ पर भी लोगों का बुरा हाल है। कोरोना काल में आम लोगों के साथ ही कई टीवी और बॉलीवुड स्टार्स को मुश्किल भरे दिन देखने पड़े। आज हम जाने माने कलाकार लोकेंद्र सिंह राजावत (Lokendra Singh Rajawat) की बात कर रहे हैं। जोधा अकबर (Jodha Akbar) जैसे सीरियल्स में काम कर चुके अभिनेता इन दिनों बेहद बुरे दौर से गुजर रहे हैं। दरअसल अभिनेता की हेल्थ खराब चल रही है। जानकारी के लिए बता दे वे पिछले कई समय से बीमार चल रहे हैं और अब उन्हें जिंदगी भर के लिए इन बीमारियों का खामियाजा भुगतना पड़ेगा। बात कुछ ऐसी है कि डायबिटीज के चलते लोकेंद्र सिंह (Lokendra Singh) के पैर में कॉर्न निकल आया, जो उनके बोन मैरो तक पहुंच गया। ऐसे में डॉक्टर्स को उनकी जान बचाने के लिए उनका पैर काटना पड़ा।

इन विकट परिस्थितियों में अब पहली बार लोकेंद्र ने कहा है- 'डायबिटीज को कभी नजरअंदाज ना करें। मैं अब कुछ नहीं कर सकता। महामारी के पहले तक मैं अच्छी तरह काम कर रहा था, लेकिन कोरोना की वजह से काम मिलना कम हो गया। जिसकी वजह से घर में आर्थिक परेशानियां होने लगीं। इतना ही नहीं असली परेशानी तब बढ़ी, जब मेरे राइट लेग में कॉर्न निकल आया। यह मेरे बोन मैरो तक फैल गया और फिर कुछ ही समय में पूरे शरीर में फैलता गया।' आगे उन्होंने अपनी बात कहते हुए कहा कि 'मैं बहुत तनाव में आ गया। क्योंकि, इससे मुझे बचाने के कुछ ही उपाय थे। मुझे सर्वाइव करने के लिए अपना पैर कटवाना पड़ा। डॉक्टर्स को मेरा पैर घुटनों तक काटना पड़ा।'

आगे लोकेंद्र ने बताया कि मुंबई के भक्तिवेदांता हॉस्पिटल में उनकी सर्जरी हुई, जो 5 घंटे तक चली। पैर कटने पर अफसोस जताते हुए एक्टर कहते हैं कि 'अगर मैंने आज से 10 साल पहले डायबिटीज को सीरियस लिया होता तो आज यह दिन नहीं देखना पड़ता।' वह आगे कहते हैं- 'हम एक्टर्स का कोई फिक्स टाइम नहीं होता है। खाना भी समय पर नहीं खा पाते। किसी भी समय पर खाना खा लेते हैं। जिसका हमारी सेहत पर बुरा असर पड़ता है। डायबिटीज की वजह यही है, ना कि मीठा खाना।'

Next Story
Share it