ये फिल्म घर -घर में दिखायी जानी चाहिए जिससे कैंसर के बारे में जागरूकता पैदा की जा सके

ये फिल्म घर -घर में दिखायी जानी चाहिए जिससे कैंसर के बारे में जागरूकता पैदा की जा सके

बाबा साहब भीमराव अंबेडकर विश्वविद्यालय की पत्रकार जनसंचार एवं पत्रकारिता विभाग की छात्रा नीलू शर्मा की कैंसर पर बनी फिल्म को स्वास्थ्य मंत्री जय प्रताप सिंह ने आज रिलीज किया

बाबासाहेब आंबेडकर यूनिवर्सिटी के पत्रकारिता विभाग के लिए आज गौरव का दिन था | विभागध्यक्ष प्रो गोविन्द जी के पाण्डेय के निर्देशन में शोध कर रही छात्र नीलू शर्मा की फिल्म को आज उत्तरप्रदेश के स्वास्थ मंत्री श्री जय प्रकाश सिंह ने सराहना की - उन्होंने विभाग और उसके द्वारा सामाजिक मुद्दों को लेकर किये जा रहे शोध कार्य की न सिर्फ प्रशंसा की बल्कि कहा की वो चाहते है की इस तरह के काम और किये जाय -

जनसंचार एवं पत्रकारिता विभाग की छात्रा नीलू शर्मा जो प्रोफेसर गोविंद जी पांडे के निर्देशन में कैंसर पर शोध कर रही हैं और कैंसर जैसे विषय को लोगों तक पहुंचाने के लिए उन्होंने अपने शोध में तीन फिल्मो का निर्माण किया है जिससे कैंसर का बारे में जागरूकता , कैंसर के बेहतर इलाज और कैंसर को मात देकर वापस सामान्य जिंदगी जीने वाले लोगो की कहानी है -

नीलू शर्मा की एक फिल्म कैन ब्रेक कैंसर का चयन भारत के राष्ट्रीय विज्ञान फिल्म महोत्सव की अवार्ड केटेगरी के लिए भी हुआ है जिसको त्रिपुरा में होने वाले समारोह में दिखाया जाना था पर कोविड के कारण वो अभी टल गया है -

जनसंचार एवं पत्रकारिता विभाग के विभागाध्यक्ष प्रो गोविन्द जी पाण्डेय जिनके निर्देशन में नीलू शर्मा कैंसर पर शोध कर रही है ने बताया की उत्तर प्रदेश सरकार के स्वास्थ मंत्री जय प्रकाश सिंह ने न सिर्फ तीनो फिल्मो को देखा बल्कि उसे जनता के लिए लाभदायक मानकर विभाग को एक पत्र के माध्यम से उसे सार्वजनिक प्रदर्शन के लिए सहयोग देने को कहा है -

प्रो. पाण्डेय ने बताया की जल्द ही विभाग पुरे उत्तर प्रदेश में एक जनजागरण अभियान चलाकर कैंसर और खासकर महिलाओं में होने वाले सर्विकल कैंसर को ख़त्म करने का एक बड़ा अभियान चलाएगा जिसमे उत्तर प्रदेश सरकार से भी सहयोग लिया जाएगा -








Next Story
Share it