Top

हमास के बढ़ते हमलो के बीच अब इजरायल की सड़कों पर शुरू हुआ विवाद....

हमास के बढ़ते हमलो के बीच अब इजरायल की सड़कों पर शुरू हुआ विवाद....

वैश्विक महामारी के बीच इजराइल और फिलिस्तीन के बीच में युद्ध शुरू हो चुका है। इजरायल ने गाजा में फिलिस्तानी आतंकवादियों के साथ घातक हमलों और जवाबी कार्यवाही के दिनों के बाद अपनी सड़कों पर अरबों और यहूदियों के बीच दंगों को रोकने के लिए गुरुवार को दो मोर्चों पर बढ़ते संघर्ष का सामना किया।

आपको बता दें कि युद्ध के दौरान बमबारी इतनी तेज हो गई कि लोगों की जान जाने लगी। इस पर अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडन ने भी कहा कि उन्हें उम्मीद है कि "ये जल्द से जल्द" खत्म हो जाएगा, सैकड़ों रॉकेट रातोंरात गाजा पर दागे गए। आपको बता दें कि आतंकवादी हमलों के बाद इजरायल पुलिस का कहना है कि बुधवार को हिंसा के बाद 374 लोगों को गिरफ्तार किया गया है तथा 36 पुलिसकर्मियों को गंभीर रूप से चोट आई है।

प्रधानमंत्री बिन्यामिन नेतन्याहू ने कहा है कि हिंसा प्रभावित शहरों में पुलिस की मदद के लिए सेना भेजने पर विचार कर रहे हैं।

आपको बता दें कि फिलिस्तानी आतंकवादी हमलों के बाद देश के उत्तरी इलाके सहित पूरे इसराइल में पहली बार हमले कि चेतावनी जारी की गई हैं। इजरायल के वायु सेना ने कहा है कि उन्होंने हमास के कई आतंकी ठिकानों का पता लगा कर कई हमले शुरु किए हैं। हमास वो इस्लामिक संगठन है, जो गाजा को नियंत्रित करता है और इयाद तैयब इस संगठन के कमांडरों में से एक है।

यदि आंकड़ों की बात करें तो गाजा में अब तक 67 लोग मारे गए हैं, जिनमें 17 बच्चे शामिल हैं और लगभग 400 लोग घायल हुए हैं, जो लगातार हुए इजरायली हवाई हमलों की चपेट में आए हैं।

इतना ही नहीं आपको बता दें कि इजरायल ने कहा कि फिलिस्तीनी आतंकवादियों की तरफ से हफ्ते की शुरुआत से लगभग 1,500 रॉकेट उनके इलाके इलाके में दागे गए हैं। यूनाइटेड हटज़ाला स्वयंसेवी बचाव एजेंसी ने कहा कि दक्षिणी इजरायल में एक घर पर रॉकेट से हमले के बाद छह साल के एक बच्चे सहित सात लोग मारे गए हैं।

बता दें कि इजरायल और गाजा के सशस्त्र समूहों के बीच ये अब तक के सबसे ज्यादा घातक संघर्ष है, जो शुक्रवार को पूर्वी यरुशलम स्थित अल-अक़्सा मस्जिद के पास प्रदर्शनकारियों और पुलिस के बीच हुई झड़प के बाद से शुरू होकर अब हमले का रूप बन चुका है।

नेहा शाह

Next Story
Share it