ट्रांसपोर्टर्स और छात्र संगठनों को भारत बंद में शामिल करने का प्रयास

ट्रांसपोर्टर्स और छात्र संगठनों को भारत बंद में शामिल करने का प्रयास

आंदोलन कर रहे किसान 27 तारीख को भारत बंद की तैयारियों में जुट गए हैं, जिसके लिए ट्रांसपोर्ट असोसिएशन और छात्र संगठनों से विशेष रूप से संपर्क किया जा रहा है। हड़ताल वाले दिन दिल्ली बॉर्डर की सड़कों को भी जाम किया जाएगा। दिल्ली में ट्रक और बड़ी गाड़ियों में सामान की आवाजाही बंद कराई जाएगी। आपात स्थिति में किसी व्यक्ति या एंबुलेंस सेवा को रोका नहीं जाएगा।

किसान नेता राकेश टिकैत ने बताया कि आंदोलन शांतिपूर्ण तरीके से चल रहा है। भारत बंद भी गांधीवादी तरीके से होगा। कोई हिंसा या उत्तेजक कार्रवाई किसानों की तरफ से नहीं होगी।

गाजीपुर संयुक्त किसान मोर्चा के प्रवक्ता जगतार सिंह बाजवा ने बताया कि भारत बंद को सफल बनाने के लिए विभिन्न किसान और उसके सहयोगी संगठनों के साथ व्यापारी संगठन, ट्रांसपोर्ट संगठन, मजदूर और छात्र संगठनों से संपर्क साधा जा रहा है। उन्होंने बताया कि इस कार्य में संयुक्त किसान मोर्चा को सफलता मिल रही है। कई ट्रांसपोर्ट संगठन किसान आंदोलन के शुरुआती दिनों से ही साथ हैं। भारत बंद कार्यक्रम के संबंध में गुरुवार को आंदोलन स्थल में हुई बैठक में उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड और पंजाब के किसान नेता शामिल हुए थे।

Next Story
Share it