मीडिया को खेमों में बटने की जरुरत नहीं है

जी न्यूज़ की खबर के बाद आम आदमी पार्टी के नेता संजय सिंह का ट्विट भले ही एक नेता और पत्रकार के बीच का मसला है पर पत्रकारिता जगत के लोगो को ये ध्यान रखना होगा की लोकतंत्र में जनता सच देखना चाहती है |

भुलावे और भटकाव से देश का भला नहीं होने वाला | अगर राजनेताओ की तरह पत्रकार जो ज्यादातर खेमो में बट चुका है , अगर देश की सलामती चाहता है तो उसे वापस अपने पत्रकारिता के लक्ष्य की ओर ध्यान देने की जरुरत है |

मदन मोहन मालवीय जैसे पत्रकारों ने अपने मालिको की बात नहीं सुनी और पत्रकारिता के पेशे को जिन्दा रखा जिससे जनता की आवाज सत्ता के गलियारों में गूंजती रहे | पर आज का पत्रकार सत्ता के करीब और जनता से दूर होता जा रहा है |

धन मायने रखता है पर उतना ही जिससे जीवन यापन वो सके ये मानना है हमारे धर्म का और इस धर्म की कामना का सम्मान अगर पत्रकार और शिक्षक न कर पाए तो उन्हें ये पेशा छोड़ देना चाहिए |

130 Views

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may have missed

Subscribe To our News Paper