भारत बंद के दौरान जयपुर में हुई कांग्रेस और बीजेपी की जमकर भिड़ंत

भारत बंद के दौरान जयपुर में हुई कांग्रेस और बीजेपी की जमकर भिड़ंत


केंद्र के नए कृषि कानूनों को लेकर किसानों का इरादा साफ है। सभी किसान उनका यूनियन नए प्रस्तावित कृषि कानून में कोई संशोधन नहीं बल्कि एक विशेष संसद सत्र के द्वारा प्रस्तावित कानून को ही रद्द करना चाहते हैं। किसानों से सरकार ने कई दौर की बातचीत भी की परंतु फिर भी कोई हल नहीं निकल सका।

जिसके बाद सरकार ने किसानों को 9 दिसंबर को फिर चर्चा के लिए आमंत्रित किया है। आपको बता दें कि पांचवें दौर की बैठक से पहले किसानों ने 8 दिसंबर को भारत बंद का ऐलान किया था।

आज 8 दिसंबर के दिन भारत बंद का असर देश में देखा जा रहा है। कुछ राज्य ऐसे हैं जहां बंद का असर नहीं है परंतु कुछ राज्य ऐसे हैं,जहां पर बंद के डर से लोगों ने खुद को ही नजरबंद कर लिया है।

आपको बता दें कि आज भारत बंद का ऐलान सुबह 11 बजे से लेकर दोपहर 3 बजे तक किया गया है। जिसका असर अब देश के अलग-अलग हिस्सों में देखने को मिल रहा है। बिहार से लेकर उड़ीसा और महाराष्ट्र में ट्रेनों का चालन रोक दिया गया। वहीं देश की राजधानी दिल्ली एनसीआर में भी चक्काजाम शुरू हो गया है। किसानों के भारत बंद के ऐलान के बाद कॉन्ग्रेस तथा आम आदमी पार्टी समेत कुल 19 पार्टियों ने किसानों का समर्थन किया है।

आज भारत बंद के दिन परिवहन से लेकर फल आपूर्ति तक प्रभावित हो सकती है। परंतु ऐसा बताया जा रहा है कि बीजेपी शासित राज्यों में बंद का असर कम देखा जाएगा। परंतु योगी आदित्यनाथ ने रविवार को अपनी बैठक में भारत बंद के लिए पेट्रोलिंग बढ़ाने के निर्देश अपने अधिकारियों को दिए थे तथा ग्रेटर नोएडा व गाजियाबाद इलाकों में सावधानी बरतने को कहा था।

आपको बता दें कि भारत बंद के दौरान हिंसक झड़प के मामले भी सामने आ रहे हैं। जयपुर मे कांग्रेस और बीजेपी के बीच हिंसक झड़प के मामले सामने आए हैं। भारत बंद के दौरान जयपुर में भाजपा कार्यालय खुला हुआ था। जिसमें भाजपा युवा मोर्चा के कुछ व्यक्ति काम कर रहे थे।

प्रदर्शन करती हुई कांग्रेस के छात्र संघ ने भाजपा कार्यालय के सामने प्रदर्शन करना शुरू कर दिया तथा इसके बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का पुतला भी फूंका। तथा भाजपा के खिलाफ नारेबाजी शुरू कर दी। जिस का विरोध करते हुए भाजपा कार्यालय से लोग निकले।

उन्होंने कांग्रेस के छात्र संघ कोभाजपा कार्यालय के सामने गतिविधियां करने से मना किया। पहली बहस बाजी हुई फिर हाथापाई शुरू हो गई। जिसके बाद पुलिस ने बातचीत से मामला शांत करवाया। आपको बता दें कि झड़प में कुछ लोग घायल भी हुए हैं। तथा आधे घंटे तक लगातार लड़ाई के बाद पुलिस ने मामले को शांत किया।

इसी के साथ महाराष्ट्र सरकार ने किसानों का समर्थन करते हुए भारत बंद का भी समर्थन किया था। परंतु महाराष्ट्र में भारत बंद का असर बिल्कुल भी नहीं दिख रहा है। वहां हर रोज की तरह ट्रैफिक जाम है। वही यूपी के कुछ इलाकों में बंद का असर देखा जा रहा है हालांकि लोग अपनी गतिविधियां लगातार कर रहे हैं। परंतु सुरक्षा के मद्देनजर पेट्रोलिंग बढ़ा दी गई है।

नेहा शाह

Next Story
Share it