प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को अमेरिका की तरफ से मिला 'लीजन ऑफ मेरिट' का सम्मान

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को अमेरिका की तरफ से मिला लीजन ऑफ मेरिट का सम्मान


2014 में नरेंद्र मोदी को भारत का प्रधानमंत्री जनता द्वारा नियुक्त किया गया। जिसके बाद से ऐसा माना जा रहा है कि भारत के संबंध विदेश के साथ अच्छे होने लगे हैं। आपको बता दें कि हाल ही में आई रिपोर्ट के मुताबिक अमेरिका ने चीन व पाकिस्तान के मामलों में भारत का साथ देते हुए कहा है, कि वह भारत के किसी भी परिस्थिति में मदद करेंगे।बात इंटरनेशनल व्यापार की हो या अतिथि के तौर पर आने जाने की भारत हर एक देश के साथ अब दोस्ती कर चुका है। तथा भारत को देखने का नजरिया पूरी दुनिया ने बदल लिया है।

एक्सपर्ट का कहना है कि इसका सारा श्रेय भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को जाता है।आपको बता दें कि ऐसा पहली बार नहीं होगा जब किसी देश ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को इस अवार्ड से सम्मानित किया है।इस बार अमेरिका ने भी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को सम्मानित करते हुए लीजन ऑफ मेरिट का पुरस्कार दिया।इस दौरान अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने भारत अमेरिकी रणनीति साझेदारी को मजबूत बनाने में नरेंद्र मोदी का अहम योगदान बताया।अमेरिका में स्थित भारतीय राजदूत तरनजीत सिंह संधू ने इस पुरस्कार को लिया।

विदेश मंत्रालय ने अपनी प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए कहा कि यह पुरस्कार प्रधानमंत्री के नेतृत्व में वैश्विक शक्ति के रूप में भारत के उद्धव को मान्यता प्रदान प्रदान करता है।

इसी दौरान विदेश मंत्रालय ने अपना बयान जारी करते हुए कहा कि लिजन ऑफ मेरिट का सम्मान एक प्रतिष्ठित पुरस्कार है। जो आमतौर पर अन्य देशों के शासन अध्यक्षों को दिया जाता है। इससे पहले द रीज़न ऑफ मेरिट का पुरस्कार ऑस्ट्रेलिया के पीएम को दिया गया था।

नेहा शाह

Next Story
Share it