अब आया सुशासन बाबू का सुशासन , कुर्सी पर पुनः बैठते ही डकैतों की सलामी , पटना में गार्ड की हत्या कर टोयोटा के शोरूम में लूट

अब आया सुशासन बाबू का सुशासन ,  कुर्सी पर पुनः बैठते ही डकैतों की सलामी , पटना में गार्ड की हत्या कर टोयोटा के शोरूम में लूट

अब पटना में नई सरकार बनी है तो उसको चुनौती भी मिल गयी | सुशासन बाबू के इस कार्यकाल की शुरुआत ही हाहाकारी है | उनके राजधानी में डकैतों ने न सिर्फ गार्ड की हत्या की बल्कि टोयोटा मोटर्स में लूट पाट भी हुई है | अब समस्या यह है की सरकार नई कैबिनेट बनाये या फिर ये छोटे मोटे बवाल देखे | सरकार बनाना भी तो जरुरी है नहीं तो जनता को कैसा लगेगा | बिहार बिना सरकार राज के कैसे चलेगा |

वैसे अब तो लगता है सरकार हो न हो पर बिहार तो चलता ही रहेगा | सरकार बनी भी तो देश में एकमात्र राज्य बिहार ही है जहाँ से हत्या और लूट की वारदातें ही सुर्खिया बटोर रही है | कभी नहीं सुना की पटना और लखनऊ के बीच एक्सप्रेस वे बनाने की बात चल रही है या फिर सड़को की दशा सुधारने के लिए सुशासन बाबू ने कुछ किया हो |

अपनी दशा तो बदल ली पर बिहार - बिहार ही रह गया | कभी नाम अच्छा था पर अब तो बच्चा भी कह रहा है कि बाबू रिटायर कब होबा | कम से कम इ सब खेला तो बंद हो जाई |

Next Story
Share it