5G वायरलेस नेटवर्क के खिलाफ जूही चावला द्वारा दायर की गई याचिका को उच्च न्यायालय ने किया खारिज......

5G वायरलेस नेटवर्क के खिलाफ जूही चावला द्वारा दायर की गई याचिका को उच्च न्यायालय ने किया खारिज......



देश में 5G वायरलेस नेटवर्क स्थापित करने के खिलाफ दिल्ली उच्च न्यायालय का दरवाजा खटखटाने वाली बॉलीवुड एक्टर जूही चावला द्वारा दायर किए गए मुकदमे को आज खारिज कर दिया गया है। इस मामले में कोर्ट ने कहा है कि जूही चावला ने यह याचिका बेवजह दायर की थी। इस मामले को लेकर वे पहले सरकार को पत्र लिख सकती थी। कोर्ट ने ये भी कहा कि ये याचिका पब्लिसिटी के लिए दायर की गई थी।

इतना ही नहीं कोर्ट ने कहा कि जूही चावला ने कानून की प्रक्रिया का दुरुपयोग किया, जिसके दंड में कोर्ट ने उन पर 20 लाख का जुर्माना लगाया है। कोर्ट ने कहा कि जूही चावला का मुकदमा दोषपूर्ण और दुरुपयोग था, इससे अदालत का समय काफी बर्बाद हुआ है। इस याचिका को प्रचार हासिल करने के लिए दायर किया गया था।

आपको बता दें कि कोर्ट ने अपने आदेश देते हुए कहा कि ऐसा प्रतीत होता है कि मुकदमा प्रचार के लिए था। जूही चावला ने सुनवाई के लिंक को सोशल मीडिया पर प्रसारित किया, जिससे तीन बार व्यवधान उत्पन्न हुआ। हालांकि दिल्ली पुलिस व्यक्तियों की पहचान करेगी और व्यवधान पैदा करने वालों के खिलाफ कार्रवाई भी करेगी। सुनवाई के दौरान कोर्ट ने ये भी कहा है कि इस याचिका में मात्र कुछ बाते हुए सही थी बाकी सभी तथ्य संशय पर आधारित थी।

बता दें कि कोर्ट की सुनवाई के दौरान ऐसा पहली बार हुआ जब अचानक से एक शख्स जूही चावला की फिल्म का गाना गाने लगता है। इस शख्स ने जूही चावला के फिल्म के गाने को एक बार नहीं, दो बार नहीं, बल्कि तीन बार गाया था, जिसके कारण सुनवाई में बाधा उत्पन्न हुई और सुनवाई को बीच में रोकना पड़ गया। बताते चलें कि जूही चावला ने 5जी वायरलेस नेटवर्क के खिलाफ दिल्ली कोर्ट में याचिका दायर की है। उन्होंने कहा कि इस देश में लागू करने से पहले इससे जुड़ी तमाम तकनीकी को बारीकी से जांच की जाए। साथ ही जूही चावला ने 5जी टेस्टिंग पर रोक लगाने की भी मांग की है।

नेहा शाह

Next Story
Share it