दो साल पुराने आत्महत्या के मामले में अर्नब गोस्वामी गिरफ्तार, एंकर का आरोप- हुई मारपीट.....

दो साल पुराने आत्महत्या के मामले में अर्नब गोस्वामी गिरफ्तार, एंकर का आरोप- हुई मारपीट.....


रायगढ़ पुलिस ने बुधवार सुबह रिपब्लिक टीवी के एडिटर-इन-चीफ अर्णब गोस्वामी समेत दो अन्य लोगों को गिरफ्तार कर लिया। इन पर 53 वर्षीय इंटीरियर डिजाइनर और उनकी मां को 2018 में आत्महत्या के लिए मजबूर करने का आरोप है। इस केस में अर्णब के साथ जिन दो लोगों की गिरफ्तारी हुई है, उनमें एक फिरोज शेख जबकि दूसरे नितेश सारदा हैं। गोस्वामी को वर्ली जबकि फिरोज को कांदिवली और नितेश को जोगेश्वरी से गिरफ्तार किया गया है। अर्नब गोस्वामी ने मुंबई पुलिस पर सनसनीखेज आरोप लगाते हुए कहा कि पुलिस ने सास-ससुर, बेटे और पत्नी के साथ मारपीट की। उन्होंने मुंबई पुलिस पर गुंडागर्दी का आरोप लगाते हुए कहा कि पुलिस ने उन्हें परिवार से बात करने से रोका।

अर्नब गोस्‍वामी को जिस मामले में हिरासत में लिया गया है, वो दरअसल साल 2018 का है। अलीबाग में 53 वर्षीय इंटीरियर डिजाइनर अन्वय नाइक और उनकी मां कुमुद नाइक ने मई 2018 में आत्महत्या कर ली थी। तब पुलिस को जांच करते हुए घटनास्थल से एक सुसाइड नोट मिला था। इस सुसाइड नोट में कथित तौर पर कहा गया कि अर्नब गोस्वामी और दो अन्य लोगों ने उन्हें 5.40 करोड़ रुपये की बकाया राशि का भुगतान नहीं किया। इस कारण उनकी आर्थिक स्थिति बिगड़ गई। अब आत्‍महत्‍या करने के अलावा उनके पास कोई दूसरा रास्‍ता नहीं है, इसलिए वो ये कदम उठा रहे हैं। इस मामले पर केंद्रीय सूचना और प्रसारण मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने कहा महाराष्ट्र सरकार पर हमला बोला। उन्होंने कहा कि हम महाराष्ट्र में प्रेस स्वतंत्रता पर हमले की निंदा करते हैं। यह प्रेस के इलाज का तरीका नहीं है। यह हमें उन आपातकालीन दिनों की याद दिलाता है जब प्रेस को इस तरह से व्यवहार किया गया था।

अराधना मौर्या

Next Story
Share it