पंजाब से किसानों की मूवमेंट शुरू, बड़ी संख्या में ट्रैक्टर-ट्रालियां लेकर किसान हरियाणा की तरफ निकले

  • whatsapp
  • Telegram
  • koo
पंजाब से किसानों की मूवमेंट शुरू, बड़ी संख्या में ट्रैक्टर-ट्रालियां लेकर किसान हरियाणा की तरफ निकले

किसानों के 13 फरवरी को शुरू होने वाले ‘दिल्ली चलो’ अभियान से पहले दिल्ली-हरियाणा में प्रशासन अलर्ट पर है। इस बीच पंजाब से किसानों की मूवमेंट शुरू हो गई है। पंजाब के ब्यास से बड़ी संख्या में किसान ट्रैक्टर ट्रालियां लेकर हरियाणा की तरफ निकले हैं। ये किसान ब्यास पुल से फतेहगढ़ साहिब के लिए रवाना हुए हैं। इनके साथ किसान मजदूर संघर्ष कमेटी नेता सरवन सिंह पंधेर मौजूद हैं। किसानों के आंदोलन के चलते हरियाणा सरकार ने बड़ा कदम उठाया है।

अबांला के पास शंभू में पंजाब के साथ लगती सीमा को सील कर दिया है, वहीं दिल्ली के उत्तर पूर्वी जिले में धारा-144 लगा दी गई है। दिल्ली की सीमाओं पर सुरक्षा कड़ी कर दी गई है। ट्रैफिक पुलिस से मिली जानकारी के मुताबिक, सिंघु बॉर्डर पर आज से ही कमर्शल गाड़ियों की आवाजाही को प्रतिबंधित कर दिया जाएगा। मंगलवार को बॉर्डर पूरी तरह सील कर दिया जाएगा। सिंघु बॉर्डर से सभी प्रकार की गाड़ियों की आवाजाही पर रोक लग जाएगी। रविवार को खुद पुलिस कमिश्नर संजय अरोड़ा सुरक्षा तैयारियों का जायजा लेने पहुंचे। सिंघु बॉर्डर सील होने से हरियाणा-पंजाब आने-जाने वाले लोगों को भी दिक्कत होगी। अप्सरा भोपरा, गाजीपुर, बॉर्डर पर चौकसी बढ़ा दी गई है।

हरियाणा और दिल्ली के टिकरी बॉर्डर पर कंटीली तारें, लोहे और सीमेंट के भारी भरकम बैरिकेड लगाए गए हैं। किसानों ने आंदोलन को आगे बढ़ाने के लिए पंचायतों से भी समर्थन मांगा है। किसानों के आंदोलन चलते केंद्रीय मंत्री सोमवार को चंडीगढ़ आ सकते हैं। बताया जा रहा है कि पीयूष गोयल किसानों के नेताओं से मीटिंग करेंगे। इससे पहले भी वह चंडीगढ़ में किसानों से मीटिंग कर चुके हैं। बीते रोज पंजाब के मुख्यमंत्री की पहल के बाद तीन मंत्रियों यह मीटिंग हुई थी।


Next Story
Share it