करतारपुर कॉरिडोर पर सतर्क रहने की जरूरत

पाकिस्तान के रेल मंत्री शेख राशिद के बयान श्री यह साबित हो गया है कि पाकिस्तान करतारपुर कॉरिडोर को भाईचारे की जगह आतंकवाद का पालन पोषण करने का अड्डा मानता है।इमरान खान ने कुछ दिनों पहले एक बड़ा समारोह आयोजित कर घोषणा किया था कि उनका दिल बहुत बड़ा है|

और उन्होंने इसीलिए करतारपुर कॉरिडोर को खुला है वहीं भारत के नवजोत सिंह सिद्धू ने यहां तक कह दिया कि उनके मित्र यानी इमरान खान का दिल शेर का है लेकिन यह दिल भेड़िए का निकला।सिद्धू को शायद इस बात का अंदाजा नहीं है कि पाकिस्तान में सत्ता सेना के हाथ में होती है और सेनाध्यक्ष बाजवा कौन सी चाल चल रहा है कि इमरान खान को भी नहीं पता होगा और ना ही बाजवा इसकी जरूरत समझता होगा।

पाकिस्तान में इस तरह के षड्यंत्र होती आई है कारगिल के समय जहां एक ओर मुशर्रफ आतंकी घुसपैठ करा रहा था वहीं दूसरी ओर नवाज शरीफ अटल बिहारी वाजपेई के साथ मिलकर सदा ए सरहद बस चला रहे थे।पाकिस्तान एक ऐसा देश है जिसकी न्यू भारत विरोध पर ही टिकी हुई है और उससे यह अपेक्षा करना कि वह भारत के लिए हमदर्दी रखेगा या अच्छा सोचेगा निहायत गलत सोच होगी।

भारत की एकमात्र रणनीति यही होनी चाहिए कि वह पाकिस्तान को कमजोर करें और पाकिस्तान के कई टुकड़े कर दे जिससे उनकी शक्ति खत्म हो जाए अन्यथा तरक्की करता हुआ पाकिस्तान और आर्थिक रूप से मजबूत पाकिस्तान भारत के लिए बड़ा खतरा साबित होगा।

38 Views

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may have missed

Subscribe To our News Paper