Top

बिगड़ रही अर्थव्यवस्था पर विपक्षी दलों की बैठक....

बिगड़ रही अर्थव्यवस्था पर विपक्षी दलों की बैठक....

आरती बचपन एक्सप्रेस .......

कांग्रेस पार्टी ने अर्थव्यवस्था पर मोदी सरकार के खिलाफ राष्ट्रव्यापी आंदोलन करने की तैयारी कर चुकी है पार्टी का मानना है कि आर्थिक मंदी ने रोजगार के संकट की स्थिति भयावह कर दी है ऐसे में सरकार को हालात की गंभीरता का एहसास कराने के लिए और बिगड़ती अर्थव्यवस्था को सुधारने के मकसद से विपक्षी दलों की संयुक्त घेराबंदी जरूरी है इसी मकसद से विपक्षी दलों की बैठक बुलाने की पहल कर रही है |

अधिकतर विपक्षी दलों ने संयुक्त रूप से सरकार की घेराबंदी की जरूरत को स्वीकार किया है कांग्रेस के उच्च पदस्थ सूत्रों के अनुसार अर्थव्यवस्था की स्थिति गंभीर हो चुकी है इस पर विपक्षी नेताओं से अनौपचारिक चर्चा चल रही हैं गौरतलब है कि अगले कुछ दिनों के भीतर ही आर्थिक मंदी की चुनौतियों पर विपक्षी दलों के शीर्ष नेताओं की बैठक होगी वाम दल के नेताओं ने भी इस बैठक की प्रस्तावना को स्वीकार कर लिया है |

साझा बैठक का मकसद विपक्षी दलों की एकजुट ताकत से सरकार पर दबाव बढ़ाना है कांग्रेस इस मुद्दे पर पहले ही राष्ट्रव्यापी आंदोलन का ऐलान कर चुकी है मंगलवार को इसकी रूपरेखा भी जारी कर दी गई है विपक्षी पार्टियों का मानना है कि रोजगार के संकट आर्थिक मंदी कृषि संकट और किसानों को एमएसपी नहीं मिल पाने की मुसीबत के अलावा मुक्त व्यापार से जुड़े आर से समझौते पर हस्ताक्षर की सरकार की तैयारी जैसे मसलों पर विपक्षी दलों की राय बहुत अलग होगी इसकी गुंजाइश नहीं है|

विपक्षी दलों की एक बैठक आगामी संसद के शीतकालीन सत्र की संयुक्त रणनीति को लेकर भी होगी 15 नवंबर के बीच प्रदेश की राजधानियों और हर जिले में लोगों को मोदी सरकार के आर्थिक कुप्रबंधन से रूबरू कराने का निर्णय लिया गया है शीत सत्र के दौरान दिल्ली में बड़े विरोध प्रदर्शन के रूप में इस आंदोलन को चलाया जाएगा सूत्रों के अनुसार कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी और पूर्व प्रधानमंत्री डॉक्टर मनमोहन सिंह इस विरोध प्रदर्शन की अगुवाई करेंगे ॥

Next Story
Share it