Top

संसद भंग करने पर मजबूर हुए नेपाल के प्रधानमंत्री केपी शर्मा

संसद भंग करने पर मजबूर हुए नेपाल के प्रधानमंत्री केपी शर्मा


नेपाल के प्रधानमंत्री केपी शर्मा ओली ने सोमवार को कहा कि वह अपने खिलाफ कि जा रही साजिशों के कारण संसद को भंग करने पर मजबूर हो गए। उन्होंने अपने वार्ता में कहा कि उनके खिलाफ बल्कि राष्ट्रपति विद्या भंडारी के खिलाफ भी साजिशें की जा रही हैं। केपी शर्मा ओली ने कहा कि उनकी सरकार के खिलाफ संसद में अविश्वास प्रस्ताव लाने की भनक उन्हें लगी जिसके कारण उन्होंने संसद भंग कर दिया।प्रधानमंत्री केपी शर्मा ओली ने कहा कि "मैं अपने वादे नहीं पूरा कर पाने के कारण जनता से माफी मांगना चाहूंगा, हमें अब नहीं चुनाव का सामना करना होगा।"

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक एक बैठक में मौजूद सांसद के समक्ष ओली ने कहा कि मैं संसद भंग करने की सिफारिश का निर्णय लेने के लिए मजबूर हो गया था। तथा मुझे पार्टी के अंदर हाशिए पर पहुंचा दिया गया था। उन्होंने कहा कि राष्ट्रीय तथा अंतरराष्ट्रीय शक्तियों के साथ मिलकर मुझे रोकने की कोशिश की जा रही थी।

आपको बता दें कि नेपाल के प्रधानमंत्री शर्मा की अपील के बाद राष्ट्रपति ने रविवार को संसद भंग करते हुए चुनाव की तारीखों का ऐलान कर दिया। प्रधानमंत्री शर्मा ने उनके खिलाफ अनुशासनात्मक कार्यवाही करने के लिए अपने पार्टी के मतों को खारिज कर दिया।आपको बता दें कि संसद भंग करने का मुख्य कारण चल रही साजिश थी जिसकी भनक प्रधानमंत्री केपी शर्मा को लगी। और उन्होंने ना चाहते हुए भी संसद भंग करने का निर्णय लिया।

नेहा शाह

Next Story
Share it