Top

गृह मंत्री अमित शाह से मुलाकात करने के बाद शुक्रवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मुलाकात कर सकते हैं योगी आदित्यनाथ

गृह मंत्री अमित शाह से मुलाकात करने के बाद शुक्रवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मुलाकात कर सकते हैं योगी आदित्यनाथ

देश की राजधानी दिल्ली में घंटे भर से ज्यादा चली मुलाकात के बाद मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने ट्विटर पर लगातार पोस्ट शेयर की। जिसे करीब आधे घंटे बाद अमित शाह ने भी इस मुलाकात को ट्वीट किया। बता दें कि इन पिक्चरों को काफी ट्रोल भी किया जा रहा है क्योंकि जहां एक तरफ योगी आदित्यनाथ मास्क के साथ मीटिंग में पहुंचे वही अमित शाह के चेहरे पर मास्क नहीं नजर आया।

उत्तर प्रदेश 2022 आगामी विधानसभा चुनाव से पहले अमित शाह के साथ हुई योगी आदित्यनाथ की इस बैठक को काफी अहम माना जा रहा है। ऐसा कहा जा रहा है कि इस मीटिंग के बाद से चुनावी समीकरण बदलने की पूरी संभावना है हालांकि बृहस्पतिवार को हुई मीटिंग के बाद शुक्रवार को होने वाली मीटिंग की संभावना है, जो कि बेहद अहम मानी जा रही है।

आपको बता दें कि बीते कुछ दिनों से उत्तर प्रदेश की सरकार को लेकर माहौल काफी गर्म बना हुआ है। ऐसे में राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ बीजेपी संगठन उत्तर प्रदेश सरकार और बीजेपी के जनप्रतिनिधि के बीच कई दौर की बैठकें भी हुई है।

गृह मंत्री अमित शाह से मुलाकात करने के बाद मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने ट्वीट करते हुए लिखा कि आज आदरणीय केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह जी से नई दिल्ली में शिष्टाचार भेंट कर उनका मार्गदर्शन प्राप्त किया। भेंट हेतु अपना बहुमूल्य समय प्रदान करने के लिए आदरणीय गृह मंत्री जी का हार्दिक आभार।

इतना ही नहीं आपको बता दें कि उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री के सिवाय अमित शाह ने 2 दिन के अंदर कुल 3 नेताओं के साथ मुलाकात करने की जानकारी सोशल मीडिया पर शेयर की। और सारे नेता उत्तर प्रदेश से ताल्लुक रखते हैं। गृह मंत्री अमित शाह ने गुरुवार को अध्यक्ष अनुप्रिया पटेल से भी मुलाकात की जो कि केंद्र में मंत्री भी रह चुकी हैं.

पूर्व मंत्री अनुप्रिया पटेल से मुलाकात के बाद उत्तर प्रदेश में अगले साल आने वाले विधानसभा चुनाव को लेकर उनकी पार्टी की भूमिका उत्तर प्रदेश के लिए खास मानी जा रही है।

इस बीच बड़ी खबर के रूप में ऐसा माना जा रहा है कि शुक्रवार को यानी आज मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मुलाकात कर सकते हैं, और ऐसा दावा किया जा रहा है कि अमित शाह से योगी आदित्यनाथ की शिष्टाचार भेंट में इसी मुलाकात का धरातल तैयार किया गया। राजनीतिक विशेषज्ञों की मानें तो उनका कहना है कि अब इस मुलाकात से तय होगा कि भारतीय जनता पार्टी में लखनऊ की डोर किसके हाथ में है।


नेहा शाह

Next Story
Share it