Top

मध्य प्रदेश दमोह विधानसभा क्षेत्र में भाजपा ने लगाई उपचुनाव के लिए बड़ी ताकतें.

मध्य प्रदेश दमोह विधानसभा क्षेत्र में भाजपा ने लगाई उपचुनाव के लिए बड़ी ताकतें.


मध्य प्रदेश के विधानसभा क्षेत्र में होने वाले उपचुनाव को लेकर भारतीय जनता पार्टी और अन्य सभी पार्टियों ने पूरी ताकत झोकी है। आपको बता दें कि बृहस्पतिवार को भाजपा के तमाम दिग्गज नेता मंच पर एक साथ नजर आए, जिन्होंने राज्य की कांग्रेस की सरकार पर जमकर हमला बोला।

बांसा तारखेडा में आयोजित जनसभा को संबोधित करते हुए मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि 2018 के चुनाव में वोट हमें ज्यादा मिले लेकिन कांग्रेस को कुछ ज्यादा ही सीटें मिल गई हम चाहते थे तब भी सरकार बना सकते थे, लेकिन हमने इन्हें की सरकार बनाने दी और कमलनाथ अब मुख्यमंत्री बने और पर्दे के पीछे से सरकार दिग्विजय सिंह चला रहे थे। उन्होंने तंज कसते हुए कहा कि हमने अब तक ऐसा मुख्यमंत्री नहीं देखा।

उन्होंने कहा कि कमलनाथ ने किसानों से उड़द दाल खरीदी पर पैसे नहीं दिए, धान नहीं खरीदा, चना मसूर नहीं खरीदा, किसानों को एक पैसा तक नहीं दिया, विकास का कोई काम नहीं किया। शिवराज सिंह चौहान के बाद जनसभा को संबोधित करते हुए भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष और सांसद विष्णु दत्त शर्मा ने कहा कि प्रदेश में गलती से 15 महीने के लिए कांग्रेस की सरकार बन गई एक ऐसा व्यक्ति मुख्यमंत्री बन गया जिन्होंने ना कभी गरीबी देखी है, ना गांव और ना ही किसान देखा है, तो वह किस तरह का कर्जा जानेंगे। जब गरीब का बेटा मुख्यमंत्री बनता है, वह किसान और गरीब का दर्द जानता है।

वह जानता है कि गरीबी क्या होती है। उन्होंने जनता को संबोधित करते हुए कहा कि गरीब की पीड़ा को समझ कर ही मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने संबल योजना बनाई जिसे कमलनाथ सरकार ने बंद कर दिया।

आपको बता दें कि दमोह विधानसभा क्षेत्र में वर्ष 2018 में हुए विधानसभा चुनाव में कांग्रेस के उम्मीदवार की तरह राहुल लोधी ने जीत दर्ज की थी। जिसके बाद उन्होंने विधानसभा की सदस्यता से इस्तीफा दे दिया, और भाजपा में शामिल हो गए।पर भाजपा ने राहुल लोधी को उम्मीदवार बनाया। जहां पर 17 अप्रैल को मतदान की प्रक्रिया शुरू की जाएगी।

नेहा शाह

Next Story
Share it