साल का पहला सूर्य ग्रहण इस दिन लगेगा, इन बातों का रखें ध्‍यान

साल का पहला सूर्य ग्रहण इस दिन लगेगा, इन बातों का रखें ध्‍यान

वर्ष का पहला सूर्य ग्रहण ज्येष्ठ मास की कृष्ण पक्ष की अमावस्या पर 10 जून को लगेगा। इस बार का सूर्य ग्रहण वलयाकार होगा, लेकिन यह आंशिक तौर पर ही दिखाई देगा। उपछाया ग्रहण लगने की वजह से सूचतक काल की मान्यता नहीं होगी, लेकिन इस ग्रहण का असर सभी 12 राशियों के जातकों पर पड़ने जा रहा है।

ज्योतिषियों के अनुसार पांच राशि के जातकों पर इस सूर्यग्रहण का अशुभ प्रभाव पड़ेगा। ऐसे में ग्रहण के दौरान ऐसे जातकों को विशेष सावधानी बरतनी होगी। खासकर के गर्भवती महिलाओं को। धार्मिक मान्यताओं के अनुसार, किसी भी ग्रहण का सबसे अधिक प्रभाव गर्भवती महिलाओं पर पड़ने की आशंका रहती है।

इस दौरान किए गए कुछ काम से मां और बच्चे दोनों के स्वास्थ्य पर बुरा असर पड़ता है। आइए जानते हैं कि सूर्य ग्रहण के समय गर्भवती महिलाओं को किन बातों का विशेष ध्यान रखना चाहिए। ग्रहण काल के दौरान भोजन बनाने और खाने से बचना चाहिए। ग्रहण के बाद नया भोजन बनाना चाहिए। यद‍ि संभव हो तो ग्रहण के बाद घर में रखा सारा पानी बदल दें।

मान्‍यता है क‍ि ग्रहण के बाद पानी दूषित हो जाता है। इसलिए ग्रहण काल में रखा हुआ पानी या खाना नहीं खाना चाहिए। कहते हैं क‍ि यद‍ि यह सावधानी बरती जाए तो ग्रहण का दुष्‍प्रभाव नहीं पड़ता। अगर भोजन बनाकर रखा हो और ग्रहण लगने वाला हो तो उसमें तुलसी का पत्‍ता या कुश डाल दें। मान्‍यता है क‍ि ऐसा करने से ग्रहण का दुष्‍प्रभाव नहीं पड़ता। ज्‍योत‍िषियों के मुताब‍िक ग्रहण काल के 12 घंटे पहले और 12 घंटे बाद तक के समय को सूतक काल मानते हैं।

अराधना मौर्या



Next Story
Share it