केन्द्रीय योजना की समीक्षा सोनिया गांधी नहीं कर पाएंगी

केन्द्रीय योजना की समीक्षा सोनिया गांधी नहीं कर पाएंगी

ज्योति जायसवाल-
रायबरेली। सोनिया गांधी यूपी अध्यक्ष की इकलौती कांग्रेस सासंद को अपने क्षेत्र में केन्द्रीय योजनाओं की समीक्षा करने का अधिकार अब तक नहीं मिल सका।

केन्द्र में नई सरकार के गठन के बाद ग्राम विकास मंत्रालय जिला विकास एवं समन्वय अनुश्रवण समिति (दिशा) का गठन करना भूल गया।इसके चलते फिलहाल सांसद की अध्यक्षता में दिशा की बैठक भी संभव नहीं है ।

अमेठी संसदीय क्षेत्र सहित प्रदेश के तकरीबन सभी जिलों में दिशा का गठन हो चुका है।अमेठी में पूर्व सांसद राहुल गांधी को हटाकर केन्द्रीय मंत्री और सांसद स्मृति ईरानी को दिशा का चेयरमैन बनाया गया है।

सरकार बनने के 100 दिन बाद भी रायबरेली में दिशा का गठन न होंने पर जिलाधिकारी नेहा शर्मा ने आयुक्त को पत्र भेजा है।आमतौर पर देखा जाय तो लोकसभा का चुनाव होने के बाद निर्वाचित सांसदों की अध्यक्षता में दिशा समिति का गठन होता हैं।

Next Story
Share it