Top

इंग्लैंड ने भारतीय दौरे के लिए जताया फास्ट बॉलर्स पर भरोसा

इंग्लैंड ने भारतीय दौरे के लिए जताया फास्ट बॉलर्स पर भरोसा



ऑस्ट्रेलिया दौरे से होकर आई भारतीय टीम अब घरेलू मैदान पर खेलने की तैयारी कर रही है। हम सब जानते है कि भारत में टेस्ट सीरीज का मतलब होता है स्पिनर्स के दबदबे वाली सीरीज, और इसमें कोई आश्चर्यचकित होने की बात नहीं है। क्योंकि भारतीय पिचें स्पिन गेंदबाजों के लिए मददगार होती हैं। इसलिए भारत आने वाली टीमें स्पिन डिपार्टमेंट को मजबूत करने पर ध्यान देती रही हैं। लेकिन अगर अब हम भारत दौरे के लिए इंग्लैंड की टीम पर नजर डालें तो स्थिति ठीक उलट दिखती है। मेहमान टीम का फोकस स्पिनर्स पर न होकर फास्ट बॉलर्स पर है।

इंग्लैंड ने कंडीशन के हिसाब से खिलाड़ी चुनने के बजाय अपनी परंपरागत मजबूती तेज और स्विंग गेंदबाजी पर भरोसा किया है। गौरतलब इस रणनीति से साउथ अफ्रीका ने 2000 और ऑस्ट्रेलिया ने 2004/05 में भारत को उसी के जमीन पर हराया था। वहीं भारत और इंग्लैंड के बीच 5 फरवरी से 4 मैचों की टेस्ट सीरीज की शुरुआत होगी। खबरों के मुताबिक टॉप-2 एक्टिव तेज गेंदबाज इंग्लैंड टीम में भारत दौरे के लिए चुनी गई इंग्लैंड की टीम में तेज गेंदबाजी की जिम्मा जेम्स एंडरसन, स्टुअर्ट ब्रॉड, जोफ्रा आर्चर और बेन स्टोक्स के कंधों पर होगा। इनकी तुलना में इंग्लैंड के दो प्रमुख स्पिनर्स मोईन अली (181 विकेट) और जैक लीच (40 विकेट) के पास कुल 221 विकेट ही हैं। एंडरसन और ब्रॉड टेस्ट गेंदबाजों की ICC रैंकिंग में टॉप-10 में शामिल हैं। ब्रॉड दूसरे और एंडरसन 7वें स्थान पर हैं।

अदिती गुप्ता

Next Story
Share it