लखनऊ में गिरा 5 मंजिला ईमारत, मलवे से निकले गए 14 लोग सुरक्षित

लखनऊ में गिरा 5 मंजिला ईमारत, मलवे से निकले गए 14 लोग सुरक्षित


युपी की राजधानी,लखनऊ में बड़ा हादसा हो गया। मंगलवार की शाम को 5 मंजिला ईमारत गिर गया जिसके बाद इलाके को रेड जोन घोसित कर दिया गया है।राष्ट्रीय आपदा अनुक्रिया बल एवं राष्ट्रीय आपदा मोचन बल और नागरिक सुरक्षा के जवानों ने मौके पर पहुँच कर अब तक 14 लोगों को सुरक्षित निकला। अभी करीब आठ से दस लोगों के दबे होने की आशंका है। घटना हजरतगंज के वजीर हसन रोड स्थित अलाया अपार्टमेंट में हुई है। सीएम योगी ने भी संज्ञान लिया है। अफसरों को राहत बचाव में कोई लापरवाही नहीं बरतने के निर्देश दिए हैं |

हादसा होते ही मौके पर डिप्टी सीएम ब्रजेश पाठक और नगर विकास मंत्री एके शर्मा भी पहुंचे हैं। ब्रजेश पाठक ने बताया कि हादसे का कारण पता किया जा रहा है। एनडीआरएफ और एसडीआरएफ राहत कार्य में लगी हैं। यह भी बताया जा रहा है कि इस बिल्डिंग में कुछ दिनों से बेसमेंट में कुछ काम चल रहा था। राहत के लिए जेसीबी के साथ ही बड़ी मशीने बुलाई गई हैं।

अपार्टमेंट में रहने वाले जिन घायलों को बाहर निकाला गया उनमें से कुछ ने बताया कि शाम के करीब साढ़े छह बजे होंगे। तभी अचानक से जमीन खिसकती हुई मसूस हुई।एक पल के लिए लगा कि कहीं भूकंप तो नहीं। तभी पूरी बिल्डिंग भरभराकर ढह गई। अपार्टमेंट के ऊपरी मंजिल के कुछ लोग मामूली रूप से घायल हुए वह तुंरत बाहर आ गए। इसमें फ्लैट नंबर 301 में रहने वाली रंजना अवस्थी व उनकी बेटी आलोका शामिल हैं। एहतियातन उनको अस्पताल में भर्ती कराया। उनकी स्थिति सामान्य है।

अपार्टमेंट में रहने वाले व आसपास के कुछ लोगों ने बताया कि अपार्टमेंट की पार्किंग में लंबे समय से ड्रिलिंग का काम चल रहा था। न कोई सुरक्षा उपकरण का इस्तेमाल किया जा रहा था न किसी को इस संबंध में बताया गया था। लोगों के मुताबिक बिल्डिंग के मालिक अधिकतर रोज शाम को वहीं पर मौजूद रहते थे। मंगलवार को ये सभी दोपहर करीब ढाई बजे कहीं चले गए थे।

(प्रियांशु )

Next Story
Share it