रियासी हमले का सीसीटीवी फुटेज सामने आया, गोलियों के बीच ड्राइवर ने दिखाया सहास

  • whatsapp
  • Telegram
  • koo

जम्मू-कश्मीर के रियासी जिले में रविवार शाम को बड़े आतंकी हमले में 10 लोगों की मौत हो गई. आतंकियों ने तीर्थ यात्रियों की बस पर ताबड़तोड़ फायरिंग कर दी. इससे बस खाई में गिर गई. इस घटना में 33 लोग घायल हुए हैं. इस दौरान जम्मू के रियासी में हुए आतंकी हमले से चंद मिनट पहले का सीसीटीवी फुटेज सामने आया है. इसमें वह सफेद बस साफ दिखाई दे रही है. ये श्रद्धालुओं को वैष्णो देवी लेकर जा रही थी. इस फुटेज में दिखाई दे रहा है कि रविवार शाम 6 बजे बस कटरा की ओर बढ़ रही है, तभी 10 मिनट बाद आतंकियों ने बस पर गोलियां बरसाना शुरू कर दिया.

इस दौरान बस ड्राइवर ने बहादुरी दिखाते हुए, यहां से तेजी से गाड़ी को भगाते हुए नजर आया. मगर इस बीच उसे गोली लग गई. उसका बस पर से कंट्रोल हट गया. बाद में बस खाई में जा गिरी. उनके इस साहस के कारण हमले में कई लोगों की जान बची. ये यात्री घायल हुए. आतंकियों का मकसद था कि सभी यात्रियों को खत्म कर दिया जाए.

रियासी हमले के बाद आतंकियों की तलाश तेज कर दी गई है. इस आतंकी हमले में जान गंवानों में अधिकतर तीर्थ यात्री दिल्ली और उत्तर प्रदेश के निवासी हैं. पीडि़तों के लिए प्रशासन की ओर से हेल्पलाइन नंबर 01991-245639, 01991-245076, 0191-2542000 जारी किया गया है.

इस मामले की जांच एनआईए को सौंप दी गई है. आतंकियों को ढूंढऩे के लिए सुरक्षाबलों ने तेजी से खोजबीन शुरू कर दी है.

रिपोर्ट के अनुसार, सेना की वर्दी में नकाबपोश आतंकियों ने रियासी श्रद्धालुओं से भरी बस पर हमला कर दिया. इन आतंकियों को खोजने के लिए ड्रोन से सर्च ऑपरेशन चलाया गया है. फ़ॉरेंसिक टीम जंगल की खोजबीन में लगी हुई है. एनआईए की टीम रवाना हो चुकी हैै. टीम हर एगल पर जांच कर रही है. पीएम मोदी तीर्थयात्रियों की बस पर हुए हमले को लेकर हालात पर नजर बनाए रखे हैं. उपराज्यपाल मनोज सिन्हा ने बताया कि पीएम ने उन्हें स्थिति पर लगातार नजर बनाए रखने को कहा है. परिवारों को हर संभव मदद पहुंचाने का निर्देश दिया है.

Next Story
Share it