राजस्थान के राजनीति में सियासत की चहल-पहल- 12 निर्दलीय विधायक होंगे अहम बैठक में शामिल

राजस्थान के राजनीति में सियासत की चहल-पहल- 12 निर्दलीय विधायक होंगे अहम बैठक में शामिल


राजस्थान की राजनीति में सियासत की लड़ाई थमने का नाम नहीं ले रही है। इस विरोध में अब निर्दलीय विधायकों ने भी एंट्री ले ले ली है। बता दी कि निर्दलीय विधायक बुधवार को महत्वपूर्ण बैठक करने के बाद प्रदेश की वर्तमान हालत को देखकर अपनी रणनीति तय करेंगे।

गौरतलब है कि राजस्थान विधानसभा की 200 सीटों में से कुल 13 निर्दलीय विधायक शामिल हैं। सूत्रों के मुताबिक बताया जा रहा है कि इनमें से 12 विधायक बैठक में शामिल होने जा रहे हैं। बता दें कि राजनीतिक विशेषज्ञों द्वारा प्रदेश की सियासी हालत को देखकर यह बैठक काफी अहम मानी जा रही है।

विशेषज्ञों की माने तो ऐसा बताया जा रहा है कि निर्दलीय विधायक एकमत से सीएम गहलोत के नेतृत्व में अपनी आस्था व्यक्त करेंगे. इस बैठक को कांग्रेस आलाकमान पर दबाव की रणनीति से जोड़कर देखा जा रहा है। पिछले साल हुए सियासी संकट में भी निर्दलीय विधायकों ने गहलोत खेमे का साथ दिया था और सरकार बचाने में अपनी भूमिका निभाई थी।

इस दौरान जबकि पायलट खेमा मंत्रिमंडल विस्तार और राजनीतिक नियुक्तियों की अपनी मांगों को लेकर मुखर है तो निर्दलीय विधायकों की बैठक को गहलोत खेमे की रणनीति से जोड़कर देखा जा रहा है। आपको बता दें कि ये विधायक कांग्रेस आलाकमान से मिलने का वक्त भी मांग सकते हैं। हालांकि, निर्दलीय विधायकों का रुख गहलोत के पक्ष में साफ नजर आ रहा है, लेकिन फिर भी पायलट खेमा इस पूरे घटनाक्रम नजरें गड़ाये हुये है।

गौरतलब है कि निर्दलीय विधायकों की बैठक के बाद पायलट भी अपनी रणनीति में बदलाव कर सकते हैं। जिसके बाद निर्दलीय विधायक ओम प्रकाश को मंगलवार देर रात जान से मारने की धमकी मिलने से राजस्थान की सियासत में गर्मी का माहौल है।

नेहा शाह

Next Story
Share it