राजकीय मेडिकल कॉलेज स्थापना के मामले में राजस्थान हुआ प्रदेशों में सबसे आगे कोविड-19 की तीसरी लहर को देखते हुए मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने दिए निर्देश।

राजकीय मेडिकल कॉलेज स्थापना के मामले में राजस्थान हुआ प्रदेशों में सबसे आगे कोविड-19 की तीसरी लहर को देखते हुए मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने दिए निर्देश।

राजस्थान पूरे भारत का पहला ऐसा राज्य बना है जो सभी जिलों में राजकीय मेडिकल कॉलेज की स्थापना करने की दिशा में सबसे आगे चल रहा है। जहां पर स्वीकृत मेडिकल कॉलेज का काम समय पर पूरा करने को सर्वोच्च प्राथमिकता प्रदान की गई है।

आपको बता दें कि राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से चिकित्सा शिक्षा विभाग की टीम से बातचीत पाठक को संबोधित करते हुए कहा की संपूर्ण भारत में राजस्थान राजकीय मेडिकल कॉलेज की स्थापना के लिए सबसे आगे चल रहा है।

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने समीक्षा बैठक के दौरान निर्देश दिए कि प्रदेश में सभी नये स्वीकृत मेडिकल कॉलेजों के निर्माण का काम समयबद्ध रूप से पूरा किया जाए। इसी के साथ उन्होंने वैश्विक महामारी कोरोनावायरस की तीसरी लहर की आशंका को देखते हुए चिकित्सा महाविद्यालय में ऑक्सीजन, जनरेशन प्लांट, ऑक्सीजन, आईसीयू बैड व शिशु स्वास्थ्य सुविधाओं को तेजी से मजबूत किए जाने के भी निर्देश दिए हैं।


बैठक के दौरान मुख्यमंत्री ने कहा कि मेडिकल कॉलेजों का काम पूरा होने से विशेषज्ञ चिकित्सा संस्थानों का बड़ा नेटवर्क तैयार होगा, बेहतर स्वास्थ्य सेवाएं उपलब्ध हो सकेंगी। जिन जिलों में मेडिकल कॉलेजों का निर्माण चल रहा है उसे गति दी जाए व जहां भूमि आवंटन का काम प्रक्रियाधीन है उसे शीघ्र पूरा कर जल्द निर्माण शुरू किया जाए।


नेहा शाह


Next Story
Share it