Top

पंचायत चुनाव के लिए योगी सरकार ने मंत्रियों,सांसदों और विधायकों को सुनाया बड़ा फरमान

पंचायत चुनाव के लिए योगी सरकार ने मंत्रियों,सांसदों और विधायकों को सुनाया बड़ा फरमान


उत्तर प्रदेश में होने वाले त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव को लेकर प्रदेश की योगी सरकार ने शनिवार को बड़ा फैसला लिया है। उत्तर प्रदेश में होने वाले पंचायत चुनाव में अब बीजेपी से किसी भी सांसद व विधायक मंत्री के परिवार का कोई व्यक्ति चुनाव नहीं लड़ सकेगा.।

मुख्यमंत्री आवास पर हुई मंत्रिपरिषद की बैठक में सरकार और संगठन के बीच यह तय हो चुका है और सभी मंत्रियों वह चाहे कैबिनेट मंत्री और राज्यमंत्री हो या फिर स्वतंत्र प्रभार सभी को सीधे तौर पर यह कहा गया है कि अपने क्षेत्र में किसी के घर से परिवार का कोई सदस्य पंचायत चुनाव नहीं लड़ेगा ना ही उसे टिकट दिया जाएगा।

परिवारवाद को खत्म करने के लिए उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने संगठन के साथ मिलकर यह फैसला किया है। बैठक में बीजेपी के अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह, उत्तर प्रदेश संगठन मंत्री सुनील बंसल, प्रभारी राधामोहन सहित सरकार के सभी मंत्री मौजूद थे. जिनमें सभी को कहा गया है कि पार्टी कार्यकर्ताओं को चुनाव लड़ाया जाएगा।

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ द्वारा लिए गए इस निर्णय का सभी ने समर्थन किया। योगी आदित्यनाथ ने कहा कि हमें दूसरों को आगे आने का मौका देना चाहिए। इसीलिए हमारे मंत्रिपरिषद से कोई भी व्यक्ति घर का चुनाव नहीं लड़ेगा। आपको बता दें कि 15 जनवरी को ग्राम पंचायत का कार्यकाल खत्म हो जाएगा। ओमप्रकाश राजभर हिंदी भाजपा पर टिप्पणी करते हुए कहा था कि भारतीय जनता पार्टी अपने मन से चुनाव करवाकर जनता के अधिकारों का हनन करती हैं। जिसके बाद बीजेपी ने ओमप्रकाश राजभर को ओवैसी से भी ज्यादा खतरनाक बताया।

इसी बीच योगी आदित्यनाथ में मंत्री परिषद की बैठक में ऐलान किया कि घर का कोई भी व्यक्ति ग्राम पंचायत का चुनाव नहीं लड़ेगा। यह कदम परिवारवाद को खत्म कर सकता है।

नेहा शाह

Next Story
Share it